Home उत्तर प्रदेश नोटबंदी: पैसे की मजबूरी में करवा रहे हैं नसबंदी!-उतरप्रदेश

नोटबंदी: पैसे की मजबूरी में करवा रहे हैं नसबंदी!-उतरप्रदेश

35
0
Listen to this article

आगरा,अलीगढ़ में रहने वाले पूरन शर्मा ने नकद की कमी और जरूरतें पूरी करने की मजबूरी को देखते हुए अपनी नसबंदी करा ली। उनकी पत्नी विकलांग हैं,जहां एक ओर देश में नोटबंदी की घोषणा की जा चुकी है, वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के कुछ शहरों में पैसों की जरूरत पूरी करने कि लिए लोग नसबंदी करा रहा हैं। आपको बता दें कि नसबंदी कराने पर पुरुष को सरकार की तरफ से 2000 रुपए और महिला को 1400 रुपए दिए जाते हैं। इसीलिए वह ऐसा नहीं करवा सकती हैं। नसबंदी कराने के एवज में मिलने वाले 2,000 रुपयों के लिए पूरन और उनकी पत्नी ने यह फैसला लिया। नसबंदी कराने वाले पुरुष को जहां 2,000 रुपये मिलते हैं, वहीं ऐसा करवाने वाली महिला को 1,400 रुपये मिलते हैं। पूरन का कहना है कि उनके परिवार के पास खाने तक को पैसे नहीं थे।
मुश्किल समय है और लगता है कि पैसों के लिए नसबंदी का तरीका अपनाने वाले पूरन अकेले शख्स नहीं हैं। हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया द्वारा हासिल किए गए आंकड़ों के मुताबिक, अलीगढ़ और आगरा जिलों में इस महीने नसबंदी करवाने वालों की संख्या में बहुत ज्यादा इजाफा हुआ है। माना जा रहा है कि 8 नवंबर को नोटबंदी की घोषणा होने के बाद नसबंदी करवाने के मामलों में इतनी तेजी आई है।msid-55644200,width-400,resizemode-4,nasbandi
मैंने चाहा नहीं उसके साथ जाऊं, ना जाने कैसे सब होता चला गया’ माना जा रहा है कि 9 नवंबर से नोटबंदी की घोषणा के बाद से ही नसबंदी कराने के मामले में काफी तेजी आई है। अगर सिर्फ अलीगढ़ की बात करें तो पिछले साल नवंबर में 92 लोगों ने नसबंदी कराई थी, जबकि इस बार नवंबर में महीना खत्म होने से चार दिन पहले तक 176 लोग नसबंदी करा चुके हैं। वहीं दूसरी ओर आगरा में पिछले साल नवंबर में 450 लोगों ने नसबंदी कराई थी, लेकिन इस बार नवंबर में 904 महिलाएं और 9 पुरुष नसबंदी करा चुके हैं। हालांकि, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का मानना है कि नसबंदी में हुई ये बढ़ोत्तरी नसंबदी को लेकर चलाए गए जागरुकता अभियानों का नतीजा है। वहीं पूरन सिंह कहते हैं कि वह किसी जागरुकता के कारण नहीं, बल्कि पैसों की जरूरत को पूरा करने के लिए नसबंदी कराने पहुंचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here