Home कर्नाटक खनन माफिया जनार्दन रेड्डी ने सफेद किया 100 करोड़ का कालाधन-ड्राइवर का...

खनन माफिया जनार्दन रेड्डी ने सफेद किया 100 करोड़ का कालाधन-ड्राइवर का खुलासा

37
0
Listen to this article

कर्नाटक के एक सीनियर अफसर के ड्राइवर ने बुधवार को खुदकुशी कर ली. मौत से पहले लिखे सुसाइड नोट में उसने बीजेपी नेता और खनन माफिया जी. जनार्दन रेड्डी पर गंभीर आरोप लगाते हुए लिखा है कि रेड्डी ने 100 करोड़ रुपये काला धन सफेद किया है. मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस इसकी जांच कर रही है.
कर्नाटक ब्यरोकेसी के एक सीनियर अफसर के ड्राइवर केसी रमेश ने खुदकुशी कर लिया. उसने सुसाइड नोट में लिखा है कि खनन माफिया जनार्दन रेड्डी ने 100 करोड़ रुपये के काले धन को सफेद किया. रेड्डी ने बेटी की शादी से पहले अपने इन पैसों को सफेद किया. जिसमें उसके सीनियर अफसर ने रेड्डी की मदद की है.
नोटबंदी के बाद अपनी बेटी की भव्य शादी को लेकर चर्चा में रहे खनन कारोबारी जी. जर्नादन रेड्डी एक बार फिर विवादों में आ गए हैं।
राज्य में एक प्रशासनिक अधिकारी के ड्राइवर ने आत्महत्या से पहले लिखे सुसाइड नोट में रेड्डी के 100 करोड़ रुपये को काले से सफेद करने की बात लिखी है। पुलिस ने बुधवार को बताया कि ड्राइवर केसी रमेश ने मांड्या जिले में मद्दुर के लॉज में मंगलवार को कथित रूप से जहर खाकर सुसाइड कर लिया। उसने एक सुसाइड नोट छोड़ा है। सुसाइड नोट में रमेश ने विशेष भूमि अधिग्रहण अधिकारी (बंगलूरू) भीमा नायक पर गैर कानूनी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया है। ड्राइवर के नोट के अनुसार रेड्डी और वह प्रशासनिक अधिकारी मिलकर उसका मानसिक शोषण करते थे। ड्राइवर ने पत्र में यह भी लिखा कि रेड्डी ने कर्नाटक के प्रशासनिक सेवा के अधिकारी (जिसका वह शख्स ड्राइवर था) से पैसे सफेद करवाए थे। पुलिस ने कहा है कि वह मामले की जांच कर रही है। रमेश के अनुसार भीमा को पैसा बदलने के बदले 20 प्रतिशत हिस्सा मिला था। रमेश ने सुसाइड नोट में लिखा कि रेड्डी ने सारा पैसा अपनी बेटी की शादी में लगा दिया। नोट में आगे लिखा गया है कि नायक ने रेड्डी और बीजेपी सांसद श्रीमल्लू से गेस्ट हाउस में मुलाकात की थी। रमेश ने नोट में लिखा है कि 20 प्रतिशत हिस्से के अलावा भीमा कर्नाटक में 2018 में होने वाले चुनाव में टिकट लेने के लिए मदद चाहता था।Janardhan-Reddy-620x400

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here