Home देश-दुनिया कालेधन को सफेद कर रहा था बैंक का सीईओ, 1.56 करोड़ रुपए...

कालेधन को सफेद कर रहा था बैंक का सीईओ, 1.56 करोड़ रुपए व जेवरात बरामद

41
0
Listen to this article

राजस्थान,राजस्थान की राजधानी जयपुर में आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है. कोऑपरेटिव बैंक और उससे जुड़ी संस्था से एक करोड़ अड़तीस लाख के नए नोट और दो किलो सोना बरामद हुआ है. जयपुर के मानसरोवर में विल्फ्रेड शिक्षण संस्था ने 8 दिसम्बर को इंटीग्रल को-आपरेटिव बैंक में एक करोड तीस लाख रुपये के नये नोट जमा करवाये थे. इसके बाद आज आयकर विभाग ने बैंक अधिकारियों से पूछताछ की और विल्फ्रेड संस्था के केशव बड़ाया के एक करोड 38 लाख रुपये जब्त कर लिये.cash-currency-notes-ban-reuters_650x400_51480851057
जयपुर में इनकम टैक्स ने कोऑपरेटिव बैंक में छापेमारी की और कैश बरामद किया है। जानकारी के मुताबिक, आयकर विभाग ने यहां के द इंटीग्रल अर्बन कोऑपरेटिव बैंक की विभन्न बैंकों में छापा मारा और 1.59 करोड़ कैश बरामद किया है। बरामद कैश में से 6904 नोट नए 2000 रुपए के हैं। यानी 1.38 करोड़ के 2000 के नए नोट बरामद हुए हैं, वहीं 500 रुपए के 4 नए नोट मिले हैं। इसके अलावा बैंक से खाली लॉकर में दो किलो सोना भी मिला है। यह बैंक विल्फर्ड एजुकेशन सोसाइटी चलाती है। इनकम टैक्स ने सोसाइटी के दफ्तर में भी छापेमारी की। बताया जा रहा है कि छापेमारी के बाद को-ऑपरेटिव बैंक ग्राहकों में खलबली मच गई।
आयकर विभाग ने बताया कि केशव बड़ाया ने ये राशि किसी दूसरे बैंक खाते से अवैध रूप से निकालकर इंटीग्रल को-आपरेटिव बैंक में जमा करवा दी. बैंक की शाखा भी इसी शिक्षण संस्था के परिसर में है. जब्त किए गई राशी में 2 हजार रूपए के करीब 7 हजार नोट मिले. केशव बड़ाया फिलहाल फरार है. जयपुर में सीबीसीआईडी ने भी एक गाड़ी से 60 लाख के नोट बरामद किए हैं जिनमें 56 लाख रुपए के नए दो हज़ार के नोट शामिल है. ये लोग सड़क पर खड़े होकर कमीशन पर नोटबदली का धंधा कर रहे थे.jaipur_1481543236_749x421

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here