Home देश-दुनिया आने वाला वक्त बेईमानों की बर्बादी का वक्त’- ईमानदार लोगों की तकलीफ...

आने वाला वक्त बेईमानों की बर्बादी का वक्त’- ईमानदार लोगों की तकलीफ कम होगी और बेईमानों की तकलीफ बढ़ जाएगी

35
0
Listen to this article

मुंबई, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को मुंबई तट से करीब डेढ़ किलोमीटर अंदर समुद्र में छत्रपति शिवाजी महाराज मेमोरियल की आधारशिला रखी। इसके बाद पीएम ने बांद्रा-कुर्ला कॉम्पलेक्स में रैली को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने नोटबंदी को कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा हमला बताते हुए कहा कि ये लड़ाई तब तक नहीं रूकेगी, जब तक हम जीतेंगे नहीं। उन्होंने कहा कि बेईमान लोग सही रास्ते पर लौट आएं, हम उन्हें फांसी पर नहीं चढ़ाएंगे।आने वाला वक्त बेईमानों की बर्बादी का वक्त’136049-shivaji-700
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 50 दिन बाद ईमानदार लोगों की तकलीफ कम होगी और बेईमानों की तकलीफ बढ़ जाएगी। उन्होंने कहा कि बेईमानों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर कोई सोचता है कि वह पहले की तरह बचने का कोई रास्ता निकाल लेगा तो ऐसा नहीं होगा…सरकार बदल चुकी है। अब जो समय आ रहा है वह बेईमानों की बर्बादी का वक्त होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ मुट्ठी भर बेईमानों की वजह से ईमानदार लोगों को कष्ट उठाना पड़ रहा है। मोदी ने कहा कि कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ ये लड़ाई तब तक नहीं रूकेगी, जब तक हम जीतेंगे नहीं। ‘गरीबों का कल्याण हमारी सरकार की प्राथमिकता’
मोदी ने कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता में गरीबों का कल्याण है। उन्होंने कहा कि देश बदल सकता है, देश बदलेगा भी, देश बढ़ेगा भी, देश दुनिया के सामने सिर ऊंचा करके खड़ा हो जाएगा ये मैं तीन साल के अनुभव के आधार पर कह रहा हूं। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश में भांति-भांति की राजनीति हुई है, लेकिन 70 साल के अनुभव के बाद हमें इस बात को स्वीकार करना होगा कि अच्छा हुआ होता कि आजादी के बाद हम सिर्फ विकास का रास्ता अपनाए होते। नरेंद्र मोदी ने कहा कि विकास ही सारी समस्याओं का समाधान है। उन्होंने कहा कि गरीबों को हक विकास ही दिला सकता है, मध्यम वर्ग के अरमानों को उड़ान विकास ही दे सकता है। पीएम ने कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता विकास है जो टिकाऊ हो और गरीबों को अपनी जिंदगी में बदलाव देने का मौका देता हो। मोदी ने कहा कि हमारी सारी योजनाओं के केंद्र में गरीब का कल्याण है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here