Home देश-दुनिया केरल के सबरीमाला मंदिर में भगदड़, 40 घायल, 7 की हालत गंभीर

केरल के सबरीमाला मंदिर में भगदड़, 40 घायल, 7 की हालत गंभीर

29
0
Listen to this article

सबरीमाला। केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला भगवान अयप्पा मंदिर में रविवार शाम अचानक भगदड़ मच गई। इसमें कम से कम 40 श्रद्धालुओं के घायल होने की खबर है। घायलों में सात की हालत गंभीर बताई जा रही हैं। कोट्टायम मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। बाकी घायलों का इलाज स्थानीय पंबा अस्पताल में चल रहा है।पत्तनमतिट्टा के जिलाधिकारी आर गिरिजा के अनुसार, श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के चलते पुलिस बैरिकेडिंग टूटने के कारण अचानक भगदड़ मच गई। घायलों को शुरू में तो मंदिर परिसर स्थित सन्निद्धम अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने तीन की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें कोट्टायम मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया। 41 दिवसीय मंडला पूजा के सोमवार को समापन से पूर्व रविवार को दर्शन-पूजन के लिए मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी थी। जिलाधिकारी ने बताया कि मामूली भगदड़ के बाद हालात को काबू में कर लिया गया। मंदिर में दर्शन का सिलसिला फिर से कायम हो गया।sabimala_1482683944
गंभीर रूप से घायल लोगों के सिर और पसलियों में चोट आयी है लेकिन उन्हें होश है। उन्होंने बताया कि 41 दिन के मंडला पूजा की समाप्ति से पहले आज यहां काफी भीड़ थी। उन्होंने बताया कि 24 दिसंबर की शाम मंडला पूजा में भगवान अयप्पा द्वारा पहने जाने वाले पवित्र गहनों ‘थंगा अंगि’ को मंदिर में पहुंचाने के लिए एक यात्रा निकाली गयी थी, जिसमें लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंडला पूजा से चार दिन पहले यह यात्रा अरनमाला के श्री पार्थसारथी मंदिर से शुरू की जाती है। देवास्वम् मंत्री कडाकंपाली सुरेन्द्रन ने बताया कि थंगा अंगि लाये जाने के समय श्रद्धालुओं की भारी भीड़ थी। उन्होंने बताया कि भगदड़ से पहले वह मंदिर में थे और थंगा अंगि की दीप आराधना के बाद वह वहां से निकल गये
सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर पाबंदी को लेकर काफी विवाद हुआ था। बाद में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था – ‘महिलाओं को मंदिर में पूजा करने से रोकना उनके संवैधा.

इससे पहले साल 2011 में सबरीमाला मंदिर में मकर ज्‍योति के दिन भगदड़ में 106 श्रद्धालु मारे गए थे। वहीं 100 से ज्‍यादा घायल हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here