Home राजस्थान छाबडा साहब की शहादत का सम्मान होने पर मनाई ख़ुशी

छाबडा साहब की शहादत का सम्मान होने पर मनाई ख़ुशी

56
0
Listen to this article

जयपुर । संपूर्ण शराब बंदी आन्दोलन जस्टिस फॉर छाबडा जी के माध्यम से शराब बंदी आन्दोलन के अग्रदूत शहिद श्री गुरुशरण जी छाबडा के अधूरे आन्दोलन को आगे बढाती उनकी पुत्र वधु पूनम अंकुर छाबडा के लगातार संघर्ष के चलते सरकार को झुकना पड़ा और छाबडा साहब की शहादत का सम्मान करते हुए उनके पैतृक स्थान सूरतगढ़ की पुराणी आबादी के राजकीय विधालय का नाम श्री गुरुशरण जी छाबडा के नाम पर कर उनकी शहादत को पुष्पांजलि दी।

इस आशय की जानकारी मिलने पर जस्टिस फॉर छाबडा जी टीम के सदस्यों ने पूनम अंकुर छाबडा के निवास पर पहुच खुशि मनाई और छाबड़ा साहब के नारों के साथ शराब मुक्ति के नारे लगाये
इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते पूनम अंकुर छाबडा ने बताया कि कल की मीटिंग में कई सकारात्मक बाते हुई जो प्रदेश को शराब बंदी की ओर लेजाने में मील का पत्थर साबित होगी।
वंही जयपुर में कई जगह जन विरोध और संगठन द्वारा मांग करने पर ठेके हटा दिए गए जिसमे कुछ पर अभी वार्ता चल रही हैं शर्मिला जी द्वारा शराब ठेका हटाने की मांग को भी प्रमुखता से मीटिंग में रखा गया तो सुजानगढ, करोली, खेड़ला, सीकर, मकराना, महादेववाली, बाड़मेर सहित कई जगहों के शराब ठेको को हटाने का मुद्दा मीटिंग में रखा और सालासर सहित कई जगह अवैध शराब बिक्री के मामले भी मीटिंग में रखे उन सब पर जल्द कार्यवाही का आश्वासन आबकारी आयुक्त ने दिया है
वार्ता सकारात्मक रही वंही संगठन सतत पूर्ण शराब बंदी के लिए आंदोलन करता रहेगा और यह सब जीत आप जैसे कर्मठ कार्यकर्ताओ की जीत हे
सूरतगढ़ में स्कूल का नाम छाबड़ा साहब के नाम पर कर सरकार ने शहिद श्री गुरुशरण जी छाबड़ा की शहादत का सम्मान किया है इसके लिए हम सरकार का आभार प्रकट करते है ।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here