Home उत्तर प्रदेश अबैध शराब बिक्री आबकारी की मिलीभगत या मजबूरी

अबैध शराब बिक्री आबकारी की मिलीभगत या मजबूरी

33
0
Listen to this article

करैरा शिवपुरी.. शिवपुरी जिले की सबसे बड़ी तहसील करैरा में अबैध शराब की बिक्री को लेकर एक चर्चा जन सामान्य में प्रचलित हे की जिले में भले बच्चों के बिस्किट और दूध चाहे देहात एवं गांव गांव सुगमता से मिले अथबा नहीँ लेकिन आपको अबैध शराब की दुकांने हर जगह सहज उपलब्ध हो जायेगी बिभाग की काबिलियत और अधिकारियों की कर्तब्य परायणता को बखूबी बयां करने के लिये यह कथन लोगों को सटीक ही प्रतीत होता हे ।
अबैध शराब की बिक्री की बात खुद आबकारी महकमा भी गाहे बगाहे स्वीकारता रहा हे । जिले में अबैध शराब की खुलेआम बिक्री उतना ही यथार्थ हे जितना आबकारी महकमें के लोगों की मिलीभगत की आम चर्चायें ।

फाइल फोटा

मिलीभगत से चलता हे कारोबार

आबकारी बिभाग के इस रवैये से अब तो यह संदेह भी होने लगा हे की अबैध शराब की बिक्री रोकना आबकारी बिभाग के कार्यब्रत में आता भी हे अथबा नहीँ । जानकार तो यहाँ तक कहने लगे हें की बिभाग के अधिकारी ही अबैध शराब के परिवहन से लेकर उसको गांव गांव ब ढाबो तक खपाने के गुण ठेकेदार को बताते हें। बताया तो यह भी जाता हे की अबैध शराब के बड़े कारोबार में बिभाग के अधिकारी एवं कर्मचारियों का भी उनके ओहदे के मुताबिक हिस्सा रहता हे ।यहाँ तक की राष्ट्रीय और अन्य धार्मिक ड्राई डे के दिन भी बिभाग के अधिकारियों की शह पर शराब की बिक्री खुलेआम होती हे ।

नहीँ लग रही अबैध शराब की बिक्री पर रोक 

तबाह होती युवा पीढ़ी

बिभाग की लापरबाही से जिले की नई पीढ़ी नशे के मकड़जाल में फसकर अपना भविष्य तबाह कर रही हे और महकमे के जिम्मेदार अधिकारी मोन रहकर तमाशा देख रहे हे । अधिकारी महकमे के गैर जिम्मेवार रवैये से अभी तक कई घर तबाह हो चुके हे तो कई घरों की खुशियां उजड़ चुकी हें लेकिन बिभाग के हाकिम अपनी जेबें भरने में मसगूल हे। आमजन बिभाग के इन आला हाकिमों को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना के अलाबा आखिर कर ही क्या सकता हे ।

पुलिस ही पकड़ती हे अबैध शराब

पुलिस द्वारा आमतौर पर की जाने बाली अबैध शराब की जप्ती से भी यही एहसास होता हे की आबकारी महकमे के लिये अबैध शराब की बिक्री कोई अहम मसला नहीँ हे यहाँ पर अबैध शराब की बिक्री को रोकने व अबैध शराब की दुकान को पकड़ने का मामला व कार्यवाहियां आबकारी बिभाग के बजाय पुलिस द्वारा ही की गई  हैं!

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here