Home देश-दुनिया मोदी सरकार,गरीब और मध्यम वर्ग पर महंगाई की मार, हर महीने सिलिंडर...

मोदी सरकार,गरीब और मध्यम वर्ग पर महंगाई की मार, हर महीने सिलिंडर की कीमतें 4 रु बढ़ाने का आदेश

31
0
Listen to this article

नई दिल्ली. भाजपा की मोदी सरकार ने अपने स्वामित्व वाली तेल कंपनियों को अगले साल मार्च तक सब्सिडाइज्ड कुकिंग गैस (एलपीजी) की कीमतें 4 रुपए प्रति महीने बढ़ाने का आदेश दिया है, जिससे सब्सिडी को पूरी तरह खत्म किया जा सके।

उधर भारतीय स्टेट बैंक एस बी आई ने जमा पर ब्याज दर 4 से घटाकर 3.5 कर दी है।

गरीब और मध्यम वर्ग पर महंगाई की मार,भाजपा की मोदी सरकार ने पूर्व में इंडियन ऑयल (आईओसी), भारत पेट्रोलियम (बीपीसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम (एचपीसीएल) से सब्सिडाइज्ड डॉमेस्टिक एलपीजी के 14.2 किलोग्राम के सिलिंडर की कीमतें 2 रुपए (वैट छोड़कर) प्रति महीने बढ़ाने के लिए कहा था। हर परिवार एक साल में 14.2 किलोग्राम के 12 सब्सिडीयुक्त सिलिंडर पाने का पात्र है। इससे ज्यादा जरूरत होने पर एलपीजी सिलिंडर मार्केट प्राइस पर ही खरीदना होता है।

फाईल फोटा

‘पब्लिक सेक्टर की ऑयल मार्केटिंग कंपनियां (ओएमसी) को एलपीजी की कीमतें 2 रुपए प्रति सिलिंडर बढ़ाने का आदेश दिया गया था, जो 1 जुलाई 2016 से प्रभावी था।’ तब से अभी तक ऑयल कंपनियां 10 बार एलपीजी की रेट्स बढा चुकी है ‘सरकार ने 30 मई, 2017 के अपने आदेश के माध्यम से ओएमसी को डॉमेस्टिक एलपीजी की कीमतें हर महीने 4 रुपए (वैट छोड़कर) बढ़ाने का आदेश दिया था, जो 1 जून 2007 से प्रभावी है। ऐसा सब्सिडी पूरी तरह खत्म होने या मार्च 2018 तक जो भी पहले हो, किया जाएगा।

फाईल फोटा

LPG पर सब्सिडी खत्म करेगी 

देश को अच्छे दिनों की एक और सौगात , उधर एसबीआई ने भी जमा पर ब्याज दर 4% से घटाकर 3.5% की ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here