Home उत्तर प्रदेश यूपी के कानपुर में ताजिया का रूट बदलने पर सांप्रदायिक हिंसा,लाठीचार्ज के...

यूपी के कानपुर में ताजिया का रूट बदलने पर सांप्रदायिक हिंसा,लाठीचार्ज के बाद अब हालात काबू में

31
0
Listen to this article

कानपुर के जूही थाना क्षेत्र के परामपुरवा में बिना रूट के ताजिया ले जाने पर दो पक्षों में जमकर बवाल हुआ है. इस हिंसा में दोनों पक्षों की तरफ से ईंट और पत्थर फेंके गए हैं. कुछ शरारती तत्वों ने गाड़ियों में तोड़फोड़ के साथ ही आगजनी शुरू कर दी. पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े. कई लोगों के घायल होने की सूचना है. फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है.

 

इस बवाल की सूचना मिलते ही डीआईजी सोनिया सिंह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गई. हालात को काबू में करने के लिए पुलिस महानिदेशक मुख्यालय से अतिरिक्त फोर्स भेजी गई है. पीएसी और आरएएफ की एक-एक कंपनी तैनात है. एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार भी हालात का जायजा लेने के लिए लखनऊ से कानपुर पहुंच रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक, बलिया में शनिवार को दशहरा मेले में हुए सांप्रदायिक हिंसा के बाद रविवार को मोहर्रम के ताजिया के दौरान एक समुदाय के लोग उग्र हो गए. दोनों पक्षों में जमकर बवाल हुआ. नाराज लोगों ने दुकान और कई मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया. हिंसा की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन मुस्तैद हो गया. इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया.

पुलिस ने हालात काबू करने के लिए लाठीचार्ज के साथ ही हवाई फायरिंग की है. हिंसा करने वालों पर आंसू गैस के गोले दागे गए. इसके बाद स्थित को नियंत्रण में कर लिया गया. पुलिस और अर्धसैनिकबलों के जवान इलाके में गश्त कर रहे हैं. डीआईजी, एसएसपी, एसपी, डीएम सहित आलाधिकारी मौके पर जमे हुए हैं. हालात काबू में, लेकिन तनाव बना हुआ है.

पुलिस महानिरीक्षक आलोक सिंह ने बताया कि जूही थाना क्षेत्र के परमपुरवा में ताजिये का जुलूस जब निर्धारित रास्ते से हटा तो एक समुदाय के कुछ लोगों ने जुलूस पर पथराव किया. दो कारों और चार मोटरसाइकिलों को आग लगा दी गई. पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया. इस हिंसा में अब तक तीन लोग घायल हुए हैं.

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश पीएसी की चार कंपनियां और आरएएफ की एक कंपनी क्षेत्र में शांति बनाये रखने के लिए तैनात की गई है. किसी बल की एक कंपनी में लगभग 100 जवान होते हैं. लखनऊ से पीएसी और आरएएफ की एक-एक कंपनी और भेजी गयी है. स्थिति पर कड़ी निगाह रखी जा रही है. प्रदेश के कई बड़े अधिकारी वहां पहुंच रहे हैं.

बताते चलें कि बलिया के सिकंदरपुर कस्बे में भी शनिवार रात दो संप्रदाय के लोग आपस में भिड़ गए. दोनों पक्षों के मारपीट और पथराव हुआ है. हिंसा की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने हालात को काबू में कर लिया. मौके पर भारी संख्या में पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं. इस हिंसा में दोनों पक्ष के करीब छह लोग घायल बताए जा रहे हैं. जिलाधिकारी सुरेन्द्र विक्रम ने बताया कि यह घटना शनिवार रात की है. दो बच्चों के बीच तू-तू मैं-मैं हुई और इसके बाद उनके माता-पिता और फिर दो समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए. दोनों पक्षों के बीच पथराव हुआ. इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति पर नियंत्रण किया. पुलिस और पीएसी जवान मौके पर तैनात किये गए हैं.

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here