Home झारखंड झारखंड के देवघर जिला के उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा की अध्यक्षता...

झारखंड के देवघर जिला के उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में आज डी0एल0सी0सी0 की बैठक आयोजित की गई

33
0
Listen to this article
झारखंड के  देवघर जिला के उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में आज डी0एल0सी0सी0 की बैठक आयोजित की गई। बैठक में उपायुक्त द्वारा झारखण्ड राज्य के स्थापना दिवस के अवसर पर सभी बैंकों के शाखा प्रबंधकों को कई महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिये गये। साथ हीं उपायुक्त द्वारा निर्देश दिया गया कि आगामी 1 नवम्बर से 15 नवम्बर तक सभी बैंकों द्वारा स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में परिसम्पत्तियों के वितरण हेतु लाभुकों का चयन कर उनकी सूची तैयार कर ली जाय।
इसके अतिक्ति उपायुक्त द्वारा प्रधानमंत्री जन धन योजना, मुद्रा लोन, एस0एच0जी0, प्रधानमंत्री रोजगार गारंटी योजना, डिजिटल ट्रांजेक्शन आदि विभिन्न योजनाओं पर चर्चा करते हुए कहा गया कि यदि हम सभी मिलकर इन कल्याणकारी योजनाआंे पर कार्य करें तो इन्हें हम ससमय पूरा कर अपनेे जिले का नाम रौशन कर सकते हैं।
इस दौरान उपायुक्त द्वारा पी0एम0जी0ई0पी0 का बैंकिंग समीक्षा करते हुए जानकारी ली गई कि इसके तहत् सभी बैंकों को क्या लक्ष्य दिया गया था एवं उसके विरूद्ध क्या उपलब्धि रही। साथ हीं उनके द्वारा निदेशित किया गया कि स्थापना दिवस के अवसर पर परिसम्पत्तियों के वितरण हेतु आवेदनों को पारित कर लाभुकों का चयन किया जाय एवं इन सभी लाभुकों को प्रशिक्षण देते हुए स्थापना दिवस के दिन ऋण संबंधी कागजात दिये जायें। वहीं मुद्रा लोन के संदर्भ में बैठक में बताया गया कि  षिषु ऋण, किशोर ऋण एवं तरूण ऋण में कोई भी आवेदन लंबित नहीं है। इस पर उपायुक्त द्वारा एल0डी0एम0 को निदेश दिया गया कि विभिन्न एजेंसियों यथा-डी0आर0डी0ए0, एस0एच0जी0, जे0एस0पी0एल0एस0 के माध्यम से ऋण संबंधी जो भी आवेदन आते हैं उनका क्राॅस चेक करने के उपरांत हीं आवेदन को पारित किया जाय एवं जो आवेदन शेष बच गये हैं, उनको भी उसके कारण के साथ रिजेक्शन लिस्ट में डाल दिया जाय।
इसके अलावे स्टैंड अप इंडिया की जानकारी देते हुए उपायुक्त द्वारा इसके प्रचार-प्रसार की चर्चा करते हुए आवेदकों का आवेदन पारित करने को कहा गया। साथ हीं उन्होंने प्रधानमंत्री जनधन योजना अन्तर्गत निर्गत किये गये रूपे कार्ड एवं उनमें से एक्टिवेट हुए कार्डाें की भी समीक्षा की। इस दौरान उपायुक्त द्वारा एल0डी0एम0 एवं सभी शाखा प्रबंधकों को निदेशित किया गया कि सभी निर्गत रूपे कार्डों का शत् प्रतिषत एक्टिवेशन होना चाहिये एवं इसके लिए ई-प्रखण्ड मैनेजर, ई-मर्चेन्ट मैनेजर एवं ई-बैंक मैनेजर की भी मदद ली जा सकती है। साथ हीं उन्होंने जिला में नये उद्योग को स्थापित करने हेतु  बैंकों द्वारा ऋण उपलब्ध कराये जाने की बात भी कही।
बैठक में आर0बी0आई0 ए0जी0एम0, एल0डी0एम0 सहित जिला के सभी बैंकों के शाखा प्रबंधक आदि उपस्थित थे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here