Home जम्मू-काश्मीर जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को कामयाबी लखवी के भतीजे समेत छह पाक आतंकी...

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को कामयाबी लखवी के भतीजे समेत छह पाक आतंकी ढेर, गरुड़ कमांडो भी शहीद

33
0
Listen to this article

जम्मू कश्मीर के बांदीपोर, हाजिन में हुए एनकाउंटर में सेना और सुरक्षाबलों ने छह आतंकियों को मार गिराया है। छह आतंकियों में से एक मुंबई आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड जकी-उर-रहमान लखवी का भांजा भी शामिल है। हालांकि सेना की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई है। एनकाउंटर में इंडियन एयरफोर्स का गरूड़ कमांडो भी शहीद हो गया और दो जवान घायल हुए हैं। फिलहाल इलाके में मोबाइल इंटरनेट सेवा रोक दी गई है।

सुरक्षाबलों ने शनिवार को उत्तरी कश्मीर के हाजिन  में लश्कर-ए-तैयबा के शीर्ष नेतृत्व का लगभग पूरी तरह सफाया करते हुए ओसामा जंगी, महमूद भाई और जरगाम समेत छह दुर्दांत पाकिस्तानी आतंकियों को मार गिराया। उबैद उर्फ उमैर उर्फ ओसामा जंगी लश्कर में हाफिज सईद के बाद नंबर दो की हैसियत रखने वाले अब्दुल रहमान मक्की का बेटा और मुंबई हमलों के गुनाहगार जकी-उर रहमान लखवी का भतीजा है। ओसामा जंगी का बड़ा भाई अबु मुसैब भी इसी साल 19 जनवरी को हाजिन के पर्रे मोहल्ले में हुई मुठभेड़ में मारा गया था। लगभग तीन घंटे चली हाजिन मुठभेड़ में वायुसेना का एक गरुड़ कमांडो शहीद व एक अन्य सैन्यकर्मी घायल हो गया। शहीद की पहचान निराला के रूप में बताई जा रही है। इसी माह पुलवामा में भी सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ में हिजबुल के आतंकी मसूद अजहर के भतीजे तल्हा रशीद को मार गिराया था। हाजिन मुठभेड़ में महमूद भाई और लखवी के भतीजे के मारे जाने की खबर फैलते ही हिंसा भड़क उठी। भीड़ पर काबू पाने के लिए सुरक्षाबलों को लाठियों और आंसूगैस के अलावा गोली भी चलानी पड़ी। देर रात तक जारी हिंसक झड़पों में दो लोग जख्मी हो गए थे। वहीं हाजिन समेत पूरे बांडीपोर में प्रशासन ने इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया है। शनिवार को हुई मुठभेड़ हाजिन कस्बे से करीब दो किलोमीटर दूर चंदरगीर इलाके में हुई। बताया जा रहा है कि पिछले तीन दिन से लगातार हो रही बारिश और हिमपात से बचने के लिए लश्कर के छह से सात आतंकी सुबह चंदरगीर में अपने किसी संपर्क सूत्र के पास आकर रुके थे। इसका पता चलते ही सेना की 13 आरआर (राष्ट्रीय राइफल्स) के जवानों ने पुलिस के विशेष अभियान दल के साथ मिलकर पूरे इलाके की घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया।शाम करीब चार बजे जब जवानों का दल जामिया मोहल्ले में दाखिल हुआ तो एक मकान में छिपे आतंकियों ने घेराबंदी तोड़ भागने का प्रयास करते हुए उन पर गोलियां चलाईं। जवानों ने भी अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायर किया। पहले एक घंटे में ही सुरक्षाबलों ने पांच आतंकियों को मार गिराया, लेकिन इस दौरान दो सैन्यकर्मी भी घायल हो गए, जिनमें से वायुसेना के गरुड़ कमांडो ने बाद में अस्पताल में दम तोड़ दिया। अधिकारियों ने बताया कि छठा आतंकी करीब पौने छह बजे मारा गया।लगभग आधा घंटा जब आतंकियों की तरफ से दोबारा फायरिंग नहीं हुई तो जवानों ने सावधानी पूर्वक पूरे इलाके की तलाशी ली और सात बजे अभियान को समाप्त घोषित कर दिया। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने मुठभेड़ में छह आतंकियों के मारे जाने, एक गरुड़ कमांडो की शहादत व एक सैन्यकर्मी के घायल होने की पुष्टि की।

सेना को आतंकियों के पास से छह एके-47, 22 मैगजीन, 565 राउंड, एक यूबीजीएल, तीन ग्रेनेड्स, 10 हैंडग्रेनेड्स, एक आईकॉम सेट, दो कंपास जैसी चीजें शामिल हैं।

वहीं राज्य पुलिस महानिदेशक डॉ. एसपी वैद ने हाजिन मुठभेड़ की सफलता के लिए सेना व अन्य सुरक्षा एजेंसियों को बधाई देते हुए कहा कि उत्तरी कश्मीर में लश्कर लगभग पूरी तरह साफ हो गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here