Home देश-दुनिया आवकारी ठेकेदार ने बचाई जान ठेकेदार की गाड़ी में ही महिला ने...

आवकारी ठेकेदार ने बचाई जान ठेकेदार की गाड़ी में ही महिला ने दिया बच्चे को जन्म परिवार के लोग बोले भगवान बन गया ठेकेदार

113
0
Listen to this article
विशाल रजक तेन्दूखेड़ा/दमोह!,  आदमी की पहचान उसके व्यापार से नहीं बल्कि उसकी सोच से होती है और जिसकी सोच अच्छी रहे उसे हर जगह अच्छाई देखी है और ये बात साबित करता है आवकारी ठेकेदार जिनका काम तो शराब की ठेकेदारी है लेकिन उनकी सोच जनहित के लिए अच्छी दिखती है हम बात कर रहे हैं तेन्दूखेड़ा में आवकारी का ठेका किये ठेकेदार देवेंद्र राय की जो हमेशा अच्छी सोच रखते हैं और उनकी इसी सोच के कारण सोमवार की रात एक गर्भवती महिला और उसके पेट में होने वाले बच्चे की जिनकी जान देवेन्द्र राय द्वारा उस समय बचाई गई जब प्रसुता के लिए सिमरिया से आ रही महिला की एम्बुलेंस में दो बाइक सवार भीड़ गये टक्कर में जहां बाइक सवार बुरी तरह से घायल हो गये तो दूसरी ओर एम्बुलेंस में बैठीं गर्भवती महिला भी तड़प रही थी उसी समय देवेंद्र राय अपनी स्कार्पियो गाड़ी से सागर से बापिस आ रहे थे उनके साथ उनका ड्राइवर था हादसा देखा तो तत्काल ठेकेदार ने अपनी कार को रोका और घघायलों के साथ उस महिला की भी अपनी लग्जरी कार में बैठकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के लिए रवाना हुये लेकिन रास्ते में ही महिला ने ठेकेदार की लग्जरी कार में बच्चे को जन्म दे दिया बाद में ठेकेदार महिला उसके बच्चे और दो में से एक घायल को लेकर स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे जहां पर घायल का उपचार शुरू हुआ और बच्चे और उसकी मां को प्रसुता वार्ड में भर्ती कराया जो अब पूर्ण रूप से सुरक्षित है
जननी एम्बुलेंस और मोटरसाइकिल की भिडंत में दो घायल
दोनों की हालत थी  काफी खराब एक्सीडेंट होने से
घटना सोमवार की रात्रि करीब साढ़े ग्यारह बजे की है जब जननी वाहन सिमरिया पटनायउ से एक महिला को स्वस्थ केंद्र लेकर आ रही थी और जब वह बगदरी के समीप पहुंची उसी समय तेन्दूखेड़ा से झलौन की ओर जा रहे एक बाइक पर दो सवार जैसे ही बगदरी के समीप पहुंचे और सामने से आ रही जननी में जाकर भीड़ गये जिसमें जननी वाहन भी पूरी तरह से छतिग्रस्त हो गया और बाइकसवार भी खून से लतपथ हो गये उन्होंने मदद के लिए कई राहगीरों से मदद मांगी लेकिन कोई नहीं रुका और जिस जगह ये घटना हुई थी वहां फोन के टावर नहीं मिलते जिससे घटना के बाद में  दोनों तड़प रहे थे उसी समय देवेंद्र राय सागर से तेन्दूखेड़ा लौट रहे थे जो अपने वाहन में दोनों को लेकर आये और रास्ते में महिला ने लग्जरी कार में ही बच्चे को जन्म दिया तो दूसरे आदमी को गंभीर चोट होने के कारण कार खराब होने के साथ ठेकेदार के भी कपड़ों में भी खून लगा हुआ था जो मदद के समय एक्सीडेंट में घायल युवक का था
उन्हीं की बजट से आज हम सब सुरक्षित है
घटना के बाद जब देवेंद्र राय की  गाड़ी स्वस्थ केन्द्र पहुचीं थी पहले ही स्वस्थ विभाग के स्टाप को जानकारी मिल गई थी इसलिए स्टाप के सभी लोग  बाहर ही खड़े थे जैसे ही कार स्वस्थ केंद्र पहुची स्टाप नर्स के साथ डॉक्टरों ने महिला के साथ घायलों को स्वस्थ केंद्र में सिप्टी कराया महिला की सास ने बताया वह सिमरिया पटनायउ की निवासी हैं उसकी बहु को आज पेट में दर्द हुआ था प्रसुता का समय पूरा होने के बाद उसे शासकीय वाहन से तेन्दूखेड़ा ला रहे थे कि उनकी जननी वाहन  का एक्सीडेंट हो गया जहां उन्होंने मदद के लिए कई राहगीरों से गुहार लगाई लेकिन किसी ने उनकी मदद नहीं की मुझे लगा आज कोई बड़ी घटना न घट जाये क्योंकि रात्रि का माहौल था बहु तड़प रही थी ऐसी स्थिति में एक गाड़ी रुकी और उसमें सवार लड़के यानी देवेंद्र राय ने उनकी मदद की उन्होंने ये भी बताया कि आज यदि उनकी बहु और बच्चा सुरक्षित है तो वह केवल सिर्फ देवेंद्र राय की बदौलत
दूसरे को लेकर आई पुलिस
घटना के समय एम्बुलेंस और बाइक की टक्कर होने से एम्बुलेंस जहां छतिग्रस्त हो गई थी वहीं बाइक सवार भी टक्कर लगने से गंभीर हो गये थे जिनकों देवेंद्र राय अपनी गाड़ी से स्वस्थ केन्द्र लेकर आये वहीं जानकारी लगने पर दूसरे घायल को पुलिस लेकर आई देवेंद्र राय ने पूरे मामले में बताया कि वो सागर से आ रहे थे बगदरी के समीप जननी वाहन और बाइकसवार की टक्कर होने के कारण प्रसुता महिला दर्द से तड़प रही थी और एक घायल कि हालत भी नाजुक थी सर्वेयर न होने के कारण पुलिस की सूचना मौके से नहीं मिल रही थी इसलिए महिला और घायल को में अपनी गाड़ी पर ही ले आया जहां रास्ते में महिला ने बच्चे को जन्म दिया बाद में स्वस्थ केंद्र में भर्ती किया गया जहां सभी सुरक्षित है आपको बता दें कि  देवेंद्र राय का ये पहला मामले नहीं बल्कि पूर्व में भी वो ऐसे कई लोगों को घायल अवस्था में होने पर अपने कार्य छोड़कर उनको स्वस्थ केंद्र भेजते हैं
इस संबंध में थाना प्रभारी श्रीराम ठाकुर का कहना है कि दोनों की हालत गंभीर होने से डॉक्टर ने जबलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है और घटना की मामले की जाचं की जा रही है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here