Home उत्तर प्रदेश बोरवेल में 48 घंटे से जिंदगी मौत से लड़ रही मासूम, सेना...

बोरवेल में 48 घंटे से जिंदगी मौत से लड़ रही मासूम, सेना का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

116
0
Listen to this article

फर्रुखाबाद, (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के कमालगंज थानाक्षेत्र स्थित ग्रामी रसीदपुर में बुधवार को गड्ढे में गिरी आठ साल की मासूम सीमा को 48 घंटे के बाद भी सुरक्षित नहीं निकाला जा सका है। 60 फिट गहरे बोरवेल में फंसी मासूम को बचाने के लिए सेना के जवान युद्ध स्तर पर ऑपरेशन ‘असीम’ चला रहे हैं लेकिन ऑपरेशन सफल होता नजर नहीं आ रहा है।
रसीदपुर गांव निवासी स्वचन्द्र की आठ साल की बेटी सीमा बीते बुधवार को खेलते-खेलते 60 फीट बोरवेल में जा गिरी थी। जिलाधिकारी मोनिका रानी ने बच्ची को सकुशल निकालने के लिए सेना की मदद ली। ऑपरेशन को ‘असीम’ नाम देकर सेना अपने काम में जुट गयी। पिछले तीन दिन से चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन की असफलता के पीछे बलुई मिट्टी को बताया जा रहा है।
अपर जिलाधिकारी विवेक श्रीवास्तव का कहना है कि बलुई मिट्टी होने के कारण सेना के जवानों को काफी दिक्कत हो रही है। जवान जितनी मिट्टी खोदते हैं, उतनी फिर गड्ढे में गिर जाती है जिससे बोरवेल में फंसी बालिका को निकालने में परेशानी हो रही है। उनका कहना है कि पाइप द्वारा ऑक्सीजन दी जा रही है ऑपरेशन सफल नहीं हो पा रहा है। सेना के अधिकारियों का कहना है कि 60 फिट गहरे बोरवेल में बालिका गुरुवार की शाम तक 37 फिट पर फंसी हुई थी। खुदाई होने के बाद अब यह बालिका 50 फिट के आसपास पहुंच गई है जिससे उसे ना खाना मिल पा रहा है और ना ही उसे पानी पहुंचाया जा पा रहा है।
एडीएम श्रीवास्तव का कहना है कि बालिका को बचाने की पूरे इंतजाम किए जा रहे हैं। सेना के 60 जवान ऑपरेशन में जुटे हुए हैं। आगरा और लखनऊ से आई सेना की टुकड़ियां खुदाई कार्य में सहयोग कर रही हैं। छोटी जेसीबी की जगह शुक्रवार को बड़ी जेसीबी लगाई गई है, जिससे मिट्टी ज्यादा उठ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here