Home राज्य युवा संवाद – युवाओं के हाथ में देश का भविष्य : मुख्यमंत्री

युवा संवाद – युवाओं के हाथ में देश का भविष्य : मुख्यमंत्री

71
0
Listen to this article

रायपुर,  (हि.स.)। मैट्स विश्वविद्यालय में आयोजित ’युवा संवाद’ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल हुए। उन्होंने विद्यार्थियों के अनेक सवालों का बखूबी से जवाब दिया। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि युवाओं को राजनीति में भी आना चाहिए। युवाओं को देश संभालना है। छत्तीसगढ़ में कृषि आधारित उद्योग में युवाओं के रोजगार की अनेक संभावनाएँ हैं।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में भावी योजनाओं को लेकर काम करने की आवश्यकता है और बजट में शिक्षा को प्राथमिकता दी जाएगी। नरवा, गरुवा, घुरवा और बारी योजना से मिलने वाले लाभ को लेकर बघेल ने कहा कि नाला को संवर्धित करने की आवश्यकता है, जिससे भविष्य में पानी की समस्या न हो। पशुपालन के माध्यम से पशुधन संवर्धित होगा जिससे खाद की समस्या का भी समाधान होगा। घुरवा के माध्यम से गांव व शहर के गोबर, कूड़ा-करकट से खाद व गैस बनाने की प्रक्रिया प्रारंभ होगी जिससे स्वालंबन होगा और बारी के माध्यम से जैविक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा जिससे कृषि लागत कम होगी। इस प्रकार नरवा, गरुवा, घरवा और बारी से हम रोजगार को बढ़ावा देने के साथ-साथ स्वावलंबी बन सकेंगे।
किसान से मुख्यमंत्री बनने तक के सफर को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में बघेल ने कहा कि जब वे साइंस कालेज से पढ़ाई पूरी कर गांव में खेती-किसानी करते थे तो गांव का पटवारी, तहसीलदार, थाने आदि से संबंधित छोटी-मोटी समस्या का समाधान करते थे। लोग विभिन्न समस्याओं को लेकर आने लगते थे और धीरे-धीरे वे राजनीति में आ गये जिसका उद्देश्य समाज सेवा था।
यह पूछने पर कि राज्य में अनेक व्यावसायिक शैक्षणिक संस्थानों की स्थापना के बाद भी रोजगार का अभाव है तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि राज्य में कृषि आधारित रोजगार में अनेक संभावनाएँ हैं और आईटी के क्षेत्र में उद्योग लगाने की हमारी योजना है। जिससे युवाओं को रोजगार प्राप्त हो सके। रायपुर को प्रदूषण मुक्त बनाने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि, युवाओं से ही पूछेंगे कि रायपुर को प्रदूषण मुक्त व सुंदर कैसे बनाएं।
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हम गांधीवादी विचारधारा के हैं। यदि आपका उद्देश्य लोगों की सेवा करना, छ्त्तीसगढ़ की दो करोड़ जनता का हित है तो आप कभी नहीं थकेंगे। पहली जरूरत किसी न किसी विचारधारा से जुड़ने की है।
मुख्यमंत्री बघेल ने युवा संवाद में विद्यार्थियों द्वारा पूछे गये सवालों के प्रति काफी प्रसन्नता व्यक्त की और यह भी कहा कि सवाल करना जरूरी है लेकिन आज के दौर में सवाल पूछना भी अपराध हो जाता है। सवाल से ही व्यक्ति प्रगति करता है और जो सवाल पूछने से बुरा नहीं मानता, अच्छा मानता है, सवाल उन्हीं से पूछिये।
इस अवसर पर कुलाधिपति गजराज पगारिया ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपनी मेहनत, काबिलियत और निरंतर संघर्ष के बल पर मुकाम हासिल किया है।
इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलाधिपति गजराज पगारिया, कुलपति प्रो. कर्नल डॉ. बैजू जान, महानिदेशक प्रियेश पगारिया, कुलसचिव गोकुलानंदा पंडा, सभी विभागों के विभागाध्यक्ष, प्राध्यापकगण एवं विद्यार्थीगण उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here