Home उत्तर प्रदेश सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता की पुलिस ने नहीं की मदद, क्षुब्ध पीड़िता ने...

सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता की पुलिस ने नहीं की मदद, क्षुब्ध पीड़िता ने की आत्महत्या

86
0
Listen to this article

बदायूँ (ईएमएस)। जिले की एक महिला का अपहरण कर उसके साथ तेलंगाना के सिकंदराबाद में उसके रिश्तेदारों ने बलात्कार किया। इस मामले में पुलिस थाने के कई चक्कर लगाने के बावजूद एफआईआर न दर्ज होने से क्षुब्ध पीड़ित महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने प्रथम दृष्टया लापरवाही मानते हुए दातागंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक अमृतलाल को निलंबित कर दिया है।
जानकारी के मुताबिक मामला जिले की दातागंज कोतवाली इलाके का है जहां एक सामूहिक दुष्कर्म का शिकार महिला ने बलात्कारियों के खिलाफ कोई कार्यवाही ना होते देख आत्महत्या कर ली। मृतक पीड़िता के पिता रसूल ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया है कि महिला के रिश्तेदार आरोपियों ने 15 मई को उसे उस समय अगवा कर लिया था जब वह दवा लेने बदायूं गई हुई थी। पीड़िता को तेलंगाना प्रदेश के सिकंदराबाद में बंधक बना कर रखा गया और पंद्रह दिनों तक तीन लोगों ने दुष्कर्म किया। दुष्कर्मियों के चंगुल से छूटी पीड़िता ने जब पुलिस में मामले की शिकायत की तो बदायूँ पुलिस घटनास्थल गैर जनपद में होने का हवाला देकर मामले को टालती रही इस दौरान पीड़िता जिले के पुलिस अधिकारियों से इस मामले की शिकायत की लेकिन उसकी शिकायत कही नहीं सुनी गई और न ही पुलिस ने कोई मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करने की कोशिश की। इस रवैये से क्षुब्ध पीड़ित महिला ने रविवार को फाँसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।
इस मामले में जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी का कहना है कि एक सूचना आयी थी कि 24 वर्षीय पीड़िता ने दातागंज कोतवाली इलाके में आत्महत्या कर ली है सूचना पर पुलिस फोर्स और अधिकारी मौके पर गए थे। इस महिला ने इसी माह की 12 तारीख को एडीजी बरेली को भी एक प्रार्थना पत्र दिया था। मामले में संज्ञान आया है कि महिला ने प्रार्थना पत्र में लिखा था कि 15 मई उस के तीन रिश्तेदार जिनमें एक सगा रिश्तेदार है जो इसको लेकर तेलंगाना प्रदेश के सिकंदराबाद ले गए थे और वहां इसके साथ तीनों ने बारी-बारी से बलात्कार किया फिर इसको लेकर दिल्ली जा रहे थे। महिला ने ट्रेन में किसी यात्री से फोन मांग कर अपने पिता, चाचा और बहनोई को सूचित किया जिस पर यह लोग दिल्ली जाकर इस महिला को ले आए। इस मामले में प्रथम दृष्टया लापरवाही मानते हुए दातागंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक अमृतलाल को निलंबित कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here