Home आप बीती अवैध सम्बन्ध को लेकर हुई थी राम मिलन की हत्या आरोपियों...

अवैध सम्बन्ध को लेकर हुई थी राम मिलन की हत्या आरोपियों की सूत्रधार बनी टूटी चूड़िया

103
0
Listen to this article

बाराबंकी(ईएमएस)। मामा ही निकला अपने भांजे का हत्यारा तीन दिन पूर्व रिटायर्ड दरोगा के फार्म हाउस पर लाश मिलने से हड़कम्प मच गया। जिसके बाद पुलिस ने तेजी दिखाते हुए इस हत्याकाण्ड का खुलासा कर दिया। मामला थाना लोनीकटरा पुलिस द्वारा शनिवार को राममिलन हत्याकाण्ड का प्रेसवार्ता में खुलासा किया गया। प्रेसवार्ता का आयोजन पुलिस लाइन स्थित सभागार में अपर पुलिस अधीक्षक दक्षिणी की अध्यक्षता में हुआ। उन्होने बताया कि चैकीदार इन्द्रजीत पुत्र स्व. गोला निवासी ग्राम बेडौरा थाना लोनीकटरा ने थाने में बीते बुधवार को लिखित तहरीर दी कि वह खेतो में जानवर चरा रहा था तभी उसे बच्चों से सूचना मिली कि रिटायर्ड उपनिरीक्षक कन्हैया लाल दीक्षित के फार्म हाउस में बने कमरे में किसी अज्ञात व्यक्ति का शव पड़ा हुआ है। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब वहा जाकर देखा कि तो प्रतीत हो रहा था कि लाश को घसीटकर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा कुण्डी तोड़कर शव को उस कमरे में छिपाया गया है। उक्त सूचना के आधार पर लोनीकटरा पुलिस ने 196/19 धारा 302/201 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत कर विवेचना प्रभारी निरीक्षक लोनीकटरा नित्यानन्द सिंह द्वारा की जा रही थी। एसपी के आदेश पर क्षेत्राधिकारी हैदरगढ़ के नेतृत्व में सबूतों के आधार पर अभियुक्त लाल सिंह उर्फ ननहू पुत्र मेडई व उसकी पत्नी कलावती निवासी ग्राम बेडौरा को शनिवार सुबह 8ः45 बजे भितरी जाने वाले मार्ग पर तेजवापुर के पास स्कूल क्षेत्र थाना लोनीकटरा के निकट गिरफ्तार किया गया। उन्होने बताया कि मृतक राम मिलन का अवैध सम्बन्ध उसकी मामी कलावती से था। जिसको लेकर तीन-चार माह पूर्व मृतक द्वारा अपनी मामी के पेट पर लात मारी गयी थी इसी रंजिश के कारण राममिलन के मामा छोटेलाल ननहू व मामी कलावती ने मिलकर लाठी और हथौड़े से चेहरे और शरीर पर अनेकों वार करके उसकी हत्याकर लाश को फार्म हाउस के कमरे में छिपाया था और मृतक का लावा मोबाइल भी दोनो साथ ले गये थे। मामी कलावती की लाश के पास पड़ी टूटी हुई चूड़ियो और पहनी हुई चूड़ियों के मिलान से पुलिस इन हत्यारों को पकड़ने में कामयाबी मिली। एएसपी ने यह भी बताया कि आला कत्ल हथौड़ा, खून सनी लाठी व मृतक का लावा मोबाइल भी बरामद कर लिया गया है। हत्याकण्ड का खुलासा करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक नित्यानन्द सिंह, हेड कां0 राम सागर राजभर, सिपाही अजय प्रताप, महिला आरक्षी संगीता और रेनू शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here