Home उत्तर प्रदेश दोस्त को रिहा कराने थाने में धरने पर बैठी नाबालिग

दोस्त को रिहा कराने थाने में धरने पर बैठी नाबालिग

82
0
Listen to this article

नोएडा (ईएमएस)। अपने दोस्त को पुलिस हिरासत से छुड़ाने के लिए सेक्टर-22 के चौड़ा गांव से अगवा हुई नाबालिग लड़की थाने में ही धरने पर बैठ गई है। बता दें कि दोस्त पर ही लड़की को अगवा करने का आरोप है। 13 जुलाई को लड़की के लापता होने पर सेक्टर-24 थाने में केस दर्ज कराया गया था। जिसके बाद कार्यवाही करतें हुए पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लड़की को छुड़ा लिया। जब लड़की को युवक के गिरफ्तार होने की जानकारी मिली तो वह थाने पहुंच गई और पुलिसवालों से उसे छोड़ने की मांग की। परंतु बात न बनने पर उसने घर जाने से इनकार कर दिया। गौरतलब है कि एक प्राइवेट कंपनी में काम करने वाले रमेश (काल्पनिक नाम) खोड़ा कॉलोनी के वंदना एनक्लेव में रहते थे। यहां पर शोएब नामक एक युवक उनकी दूसरे नंबर की बेटी को तंग करता था। जिससे परेशान होकर करीब 2 साल पहले उन्होंने चौड़ा गांव में मकान ले लिया। लेकिन, शोएब ने यहां भी उसका पीछा करना नहीं छोड़ा। यहां तक कि उसने किशोरी को बात करने के लिए एक फोन भी दिया। बता दें कि किशोरी ने इसी साल 10वीं की परीक्षा पास की है। जून में रमेश का एक्सिडेंट होने से परिवार चलाने की जिम्मेदारी एक फैक्ट्री में काम करने वाली उनकी पत्नी पर आ गई।इसी बीच 13 जुलाई को उनकी दूसरे नंबर की बेटी गायब हो गई, जो रविवार शाम को पुलिस को लड़की खोड़ा कॉलोनी में मिल गई। इसके बाद उसे परिवारजनों को सुपुर्द कर दिया गया। वहीं, अगवा करने के आरोप में सोमवार सुबह शोएब को भी अरेस्ट किया गया। जब उसकी गिरफ्तारी की सूचना किशोरी को मिली तो वह भी बिना बताए थाना सेक्टर 24 पहुंच गई और हवालात में बंद शोएब को छोड़ने की मांग करने लगी। इसी बीच उसे खोजते हुए किशोरी की मां और छोटा भाई थाने में पहुंचे। उन्होंने किशोरी को समझाने की खूब कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी और मुंशी कक्ष में जाकर धरने पर बैठ गई। यह ड्रामा देर शाम तक थाने में जारी रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here