Home धर्म-आध्यात्म महिलाओं ने की हलषष्ठी की पूजा संतान की लंबी उम्र के...

महिलाओं ने की हलषष्ठी की पूजा संतान की लंबी उम्र के लिये माताओं ने रखा व्रत

50
0
Listen to this article

कोतमा (ईएमएस)। नगर के वार्ड क्र. 10 विकास नगर मे हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी महिलाओ द्वारा संतान की दीर्घायु के लिए हरछठ की पूजा अर्चना की पण्डित जयशंकर मिश्रा जी बताते है कि इस दिन फलधारी बलराम का जन्म हुआ था इस दिन महुए की दातून करने का विधान है बृत को पूरा करते समय फल से जोता बोया गया अन्य नही खाया जाता इस कारण इस वृत का सेवन करने वाली महिलाए पसई के चावल सेवन करती है।
दिनभर से हो रही रूक रूक कर वारिस से सभी लोग उत्साह पूर्वक बाजारो मे खरीददारी करते दिखे गये जिसके कारण बाजार मे रौनक रही माताएं अपनी संतान की लंबी उम्र और सुख समृद्धि की कामना के लिए हरछठी वृत रखी है माताए दिनभर उपवास रखने के बाद हरछठी की पूजा कर कथा सुनकर शाम को बिना हल चले अनाज व पांच प्रकार की भाजियों का प्रसाद का अपना वृत खोलेगी जमीन मे गढ्ढा कर कुछ बनाया जाता है जिसे सगरी कहा जाता है इस कुंड मे लाई मिटटी के खिलौने खेत के मेढ़ मे उगे कांस की बालियों भैस के दूध से बने घी दही व पसही चावल अर्पित कर पूजा अर्चना की जाती है। इस पर्व मे पांच प्रकार की भाजी महुआ आम पलास की पत्ती कांस कास के फूल नारियल मिठाई रोरी, अक्षत फलफूल सहित अन्य सामग्री से पूजा करने की पंरपरा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here