Home गुजरात जनहित संरक्षण के लिए CGDCR को मुख्यमंत्री ने दी अंतिम मंजूरी –...

जनहित संरक्षण के लिए CGDCR को मुख्यमंत्री ने दी अंतिम मंजूरी – रियल एस्टेट क्षेत्र के लिए क्रांतिकारी और संक्षिप्त नियमों की भी घोषणा की

100
0
Listen to this article

अहमदाबाद (ईएमएस)| मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में नियमों को सरल और सामान्य व्यक्ति के लिए लाभदायी बनाने के संवेदनापूर्ण-पारदर्शी प्रशासन के संकल्प के साथ रियल एस्टेट क्षेत्र के लिए क्रांतिकारी और संक्षिप्त नियमों की घोषणा की है।
विजय रूपाणी ने आज अहमदाबाद में उप मुख्यमंत्री नितिनभाई पटेल, राजस्व मंत्री कौशिकभाई पटेल और ऊर्जा मंत्री सौरभभाई पटेल की उपस्थिति में क्रेडाई गुजरात द्वारा आयोजित ग्रोथ एम्बेसडर्स समिट 2019 का प्रारम्भ करवाते हुए यह महत्वपूर्ण घोषणाएं की। सर्वग्राही स्वीकृत हो इतना ही नहीं, सरलता से आयोजन और अमल भी हो सके इस उद्देश्य से निर्माण नियमों के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की गई हैं। मुख्यमंत्री ने शहरी विकास क्षेत्र को योजनाबद्ध गति प्रदान करने के साथ ही निजी और सार्वजनिक जमीनों पर झोंपड़पट्टी बस्तियों को सुविधायुक्त आवास उपलब्ध करवाने और प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत 2022 तक सभी जो आवास छत्र मिले, इसे ध्यान में रखते हुए कई पहलरूपी फैसले लिए हैं। टीपी एक्ट के 100 वर्ष के इतिहास में प्रथम बार एक ही वर्ष में 100 टीपी स्कीम्स मंजूर करने की उपलब्धि भी मुख्यमंत्री ने हासिल की है। उन्होंने इस वर्ष 2019 में भी 9 माह के समयकाल में 75 टीपी सहित 8 डीपी को मंजूरी प्रदान कर आयोजनबद्ध शहरी विकास की प्रतिबद्धता दर्शायी है। उन्होंने अब निर्माण कार्यों के नियमों में जो महत्वपूर्ण व्यवस्थाएं की हैं, उनके चलते नगरों- महानगरों में निर्माण उद्योग को नयी दिशा मिलेगी। मुख्यमंत्री ने शहरी विकास विभाग के अंतर्गत प्रत्येक म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन- प्राधिकरण- नगरपालिकाओं और ग्राम्य क्षेत्रों में प्रत्येक के लिए लाभदायी साबित हो, इस प्रकार की व्यव्स्था की है।
मुख्यमंत्री ने दावा किया कि एफएसआई बढ़ाने के बाद अब वह गुजरात के 4 प्रमुख शहर अहमदाबाद, राजकोट, वडोदरा और सूरत में स्काईलाइन बिल्डिंगें देखना चाहते हैं और इसके लिए सरकार ने अनेक तैयारियां की हैं| उन्होंने लोगों को सिंगापुर, हांगकांग और दुबई की तरह गुजरात में भी 50 से 60 मंझिला आइकोनिक बिल्डिंगें देखने को मिलेंगी ऐसी उम्मीद जताई| मुख्यमंत्री उम्मीद जताई कि अब समय आ गया है जब गुजरात में लगातार शहरीकरण बढ़ रहा है और स्काईलाइन बिल्डिंगों की जरूरत बढ़ी है| ऐसे में एफएसआई बढ़ने से लोगों को अफोर्डेबल हाउसिंग का लाभ मिले जरूरी है| इस समिट के शुभारम्भ अवसर पर क्रेडाई गुजरात के प्रमुख परेश गजेरा, चेयरमेन शेखरभाई पटेल, जक्षय शाह, शहरी विकास के अतिरिक्त मुख्य सचिव मुकेश पुरी, रेरा के चेयरमेन अमरजीतसिंह सहित निर्माण कार्य उद्योग से जुड़े कई अग्रणी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here