Home गुजरात शांतिपूर्ण माहौल में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव संपन्न, ३,२३९ उम्मीदवारों का किस्मत ईवीएम...

शांतिपूर्ण माहौल में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव संपन्न, ३,२३९ उम्मीदवारों का किस्मत ईवीएम में बंद

80
0
Listen to this article

मुंबई, (ईएमएस)। सोमवार को महाराष्ट्र की २८८ विधानसभा सीट के लिए शांतिपूर्ण माहौल में हुए मतदान में कुल ३ हजार २३९ उम्मीदवारों का किस्मत ईवीएम में बंद हो गया जो २४ अक्टूबर को खुलेगा. फ़िलहाल कहीं से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. छिटपुट घटनाओं को छोड़ मतदान शांतिपूर्ण माहौल में सम्पन्न हुआ. हालांकि पिंपड़ी-चिंचवड़ में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी तथा शिवसेना कार्यकर्ताओं के बीच जोरदार मारपीट होने की खबर है. चुनाव आयोग के मुताबिक शाम 6 बजे तक प्रदेश की 288 सीटों पर कुल मिलाकर 55.96 फीसदी मतदान हुआ था. शाम पांच बजे तक मतदान का आंकड़ा 50 फीसदी के आंकड़ें भी नहीं छू पाया था. इसके बाद मतदान ने गति पकड़ी और शाम छह बजे तक 55.96 फीसदी वोटिंग हुई है. कुछ पोलिंग बूथ को छोड़ दें तो अधिकतर पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की कतारें नजर नहीं आईं. इससे यह साफ हो गया है कि इस बार मतदान का आंकड़ा पिछले तीन-चार चुनावों में सबसे कम रहेगा. चुनाव आयोग के मुताबिक, पिछले विधानसभा चुनाव में 60.32 प्रतिशत मतदान हुए थे.

– 55.96 फीसदी मतदान की खबर, नहीं दिखा मतदाताओं में उत्साह
– २०१४ में पड़े थे 60.32 फीसदी वोट, 2004 में हुआ था सर्वाधिक 63.4 मतदान

– कद्दावर नेताओं की किस्मत दांव पर विधानसभा चुनाव में महाराष्ट्र के लगभग सभी दिग्गज नेता चुनाव लड़ रहे हैं. सूबे में एक से एक कद्दावर नेताओं की इस चुनाव में किस्मत दांव पर है. इनमें मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण, पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण, विजय वडेट्टीवार, राकांपा के वरिष्ठ नेता अजित पवार, छगन भुजबल, जयंत पाटील, नवाब मलिक, शिवसेना से पहली बार चुनाव लड़ रहे आदित्य ठाकरे तथा सीएम कुर्सी के दावेदारों में से एक चंद्रकांत पाटिलआदि शामिल हैं. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील और शिवसेना के युवा सेना अध्यक्ष आदित्य ठाकरे पहली बार चुनाव मैदान में हैं.
– 2014 में पड़े थे कितने वोट
सन 2014 में 63.3 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया था. इससे पहले 2004 के चुनाव में 63.4 फीसदी मतदान हुआ था. 2004 से अब तक हुए तीन चुनाव में यही सर्वाधिक भी है. 2019 में मतदान प्रतिशत को लेकर जो तस्वीर सामने आ रही है, उसके अनुसार 2009 में सबसे कम मतदान का पिछले 15 साल का रिकॉर्ड खतरे में नजर आ रहा है.
– 2009 में हुआ था 59.6 फीसदी मतदान
सन 2000 के बाद महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए हुए मतदान के आंकड़ों पर नजर डालें तो सन 2009 में 59.6 फीसदी मतदान हुआ था. 2004 से 2014 तक, तीन चुनावों के आंकड़ें पर नजर डालें तो सबसे कम मतदान 2009 में ही हुआ था. इस बार, 2019 के चुनाव में शाम पांच बजे तक सामने आए आंकड़ें देखें तो लग रहा है कि 2009 के कम मतदान का रिकॉर्ड भी टूट जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here