Home गुजरात गुजरात में कोरोना के 12 नये मामले दर्ज, पीड़ितों की संख्या 30...

गुजरात में कोरोना के 12 नये मामले दर्ज, पीड़ितों की संख्या 30 हुई

81
0
Listen to this article

कोरोना वायरस अब धीरे-धीरे पूरे गुजरात को अपने शिकंजे में ले रहा है। गुजरात में एक ही दिन में कोरोना वायरस के 12 पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद हाहाकार मचा हुआ है। आज सामने आने वाले 12 नये मामले के बाद कोरोना वायरस के पीड़ितों की संख्या 30 तक पहुंच गई है। जबकि एक व्यक्ति की मौत वायरस से हुई है। वायरस के बढ़ते आतंक की वजह से सरकार लगातार लोगों से घरों में रहने की अपील कर रही है। भारत में फिलहाल ये वायरस दूसरे और तीसरे चरण के बीच है। गुजरात में कोरोना वायरस के 30 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। अहमदाबाद में सबसे ज्यादा 13 पॉजिटिव मामला, वडोदरा में 6 सूरत में 4, गांधीनगर में 4 और कच्छ और राजकोट में 1-1 कोरोना पॉजिटिव मामला सामने आ चुके हैं। इस सिलसिले में जानकारी देते हुए उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा, “कल कोरोना के 18 पॉजिटिव मामले सामने आए थे लेकिन वर्तमान में, 29 मामले पॉजिटिव आए हैं। इसलिए सरकार जो निर्देश जारी करती है उसका पालन किया जाना चाहिए और गैर-आवश्यक घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की। उन्होंने कहा कि कल जनता कर्फ्यू को हमने सफलतापूर्वक पूरा किया लेकिन अभी भी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए बहुत लंबी लड़ाई लड़ना है। ऐसे में हर जगह हर परिस्थिति में नागरिकों के सहयोग की आवश्यकता है। नागरिक जितना अधिक योगदान देंगे, उतने ही बेहतर तरीके से कोरोना पर नियंत्रण पाया जा सकेगा. हम कोरोना के मामलों को बढ़ने से रोकने के लिए काम कर रहे हैं, लेकिन गुजरात के नागरिकों को भी अपनी जिम्मेदारी सझनी पड़ेगी।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा, “यह अजीब लग रहा है कि कल तक 18 मामले थे और आज 30 पॉजिटिव मामले सामने आ रहे हैं। अकेले न्यूयॉर्क में एक ही दिन में 5,000 मामले सामने आ चुके हैं, ऐसे में सोशल डिस्टेंस एकमात्र विकल्प है। 31 मार्च तक अगर इसके फैलाव पर रोक लगाने में हम कामयाब होते हैं तो गुजरात में नियंत्रण कर सकते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने गुजरात के लोगों से अपील करते हुए कहा कि अगर आज लोग लॉकडाउन में हिस्सेदार नहीं होंगे तो आने वाले दिनों में पश्चाताप करना पड़ेगा। साथ ही साथ उन्होंने कहा कि लोग सरकार के निर्दोशों का पालन करें तो यकीनन इसके व्याप पर रोक लगाया जा सकता है।

क्रांति समय पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए और सुनिये क्रांति समय पर  Hindi News पढ़ने ने के लिए  fm radio,share market news,cricket score क्रांति  समय से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here