Home देश-दुनिया अगले 10 दिनों में चलेंगी 2,600 श्रमिक स्पेशल ट्रेन, 36 लाख प्रवासी...

अगले 10 दिनों में चलेंगी 2,600 श्रमिक स्पेशल ट्रेन, 36 लाख प्रवासी यात्रा करेंगे

71
0
Listen to this article

नई दिल्ली (एजेंसी)। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा है कि अगले 10 दिनों में 2,600 ट्रेनों के शेड्यूल तय किए गए हैं, इनमें स्पेशल श्रमिक ट्रेनों से 36 लाख प्रवासी यात्रा करेंगे। रेलवे ने राज्यों को अपनी जरूरतें बताने को कहा है। उन्होंने एक प्रेस वार्ता में कहा कि सामान्य स्थिति की बहाली की दिशा में रेलवे मंत्रालय की तरफ से 1 जून से 200 मेल एक्सप्रेस ट्रेनें चलाई जाएंगी। यादव ने कहा, “हमने 5 हजार कोच को कविड-19 केयर सेंटर्स के तौर पर तब्दील किया, जिनमें 80 हजार बेड थे। इनमें से करीब 50 प्रतिशत कोच का इस्तेमाल श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के लिए किया है। अगर जरूरत पड़ी तो उसे फिर से कोविड-19 केयर के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।”
रेलवे की तरफ से पहले से ही देशभर में कोरोना लॉकडाउन के चलते फंसे हुए प्रवासी मजदूरों को निकालने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं और 15 जोड़ी स्पेशल पैसेंजर्स ट्रेनें दिल्ली से 15 अलग जगहों के लिए चल रही हैं। हालांकि, रेल मंत्रालय ने यह भी घोषणा की है कि वे 1 जून से करीब 200 ट्रेन शुरू करने जा रहे हैं, जिसकी बुकिंग 21 मई से शुरू कर दी गई है।
लॉकडाउन के चलते फंसे हुए प्रवासी मजदूरों को निकालने पिछले चार दिनों में औसतन 260 ‘श्रमिक विशेष ट्रेनें’ प्रतिदिन चलाई गई और रोजाना तीन लाख यात्रियों को गंतव्य स्थल पर पहुंचाया गया। यादव ने कहा कि अब तक करीब 2600 से ज्यादा श्रमिक ट्रेनें विभिन्न राज्यों में चलाई गईं और 26 लाख से ज्यादा यात्रियों को उनके घर पहुंचाया गया है। इनमें से 80 फीसदी ट्रेनें यूपी और बिहार के लिए चली हैं।
विनोद यादव ने कहा कि 1 मई को श्रमिक स्पेशल ट्रेनें शुरू की गईं। सभी यात्रियों को मुफ्त भोजन और पीने का पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। ट्रेनों और स्टेशनों में स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रेलवे के 17 अस्पतालों को कोविड-19 मरीज देखभाल अस्पताल में तब्दील किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here