Home Uncategorized पुरुषों एवं महिलाओं की हस्तरेखाएं होती है एक जैसी -रेखाएं मिलकर बनाती...

पुरुषों एवं महिलाओं की हस्तरेखाएं होती है एक जैसी -रेखाएं मिलकर बनाती है कोई न कोई आकृति

115
0
Listen to this article

नई दिल्ली (एजेंसी)। ज्योतिष के अनुसार, हाथ की रेखाएं कर्मों के अनुसार बदलती हैं जो इंसान के भूत, वर्तमान और भविष्य के बारे में संकेत देती हैं। शायद यही कारण है कि ज्यादातर लोग हस्तशास्त्र में विश्वास करते हैं और अपनी हथेली ज्योतिषि को दिखाकर अपना भविष्य जानते हैं। हर व्यक्ति की हथेली में रेखाएं होती हैं और ये रेखाएं एक दूसरे से मिलकर कोई न कोई आकृति जरुर बनाती हैं। वैसे तो हस्तरेखाएं पुरुषों एवं महिलाओं के हाथों में लगभग एक जैसी होती हैं, लेकिन हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार जब महिलाओं के हाथों की रेखाएं मिलकर किसी विशेष आकृति का निर्माण करती हैं तो ये निशान उन्हें जीवन में सुख समृद्धि प्राप्त करने का संकेत हो सकते हैं। आइए जानते हैं कि महिलाओं की हथेली में विशेष आकृति का क्या मतलब होता है।यदि महिला की हथेली में चक्र, या शंख जैसी आकृति बनती हो तो इसका मतलब यह है कि उसका पुत्र बहुत बड़ा अधिकारी बनेगा और विलासितापूर्ण जीवन व्यतीत करेगा। यदि किसी महिला की दायीं हथेली में तराजू और बायीं हथेली में बैल या हाथी जैसी आकृति हो तो इसका अर्थ यह है कि उसका पति बहुत बड़ा व्यापारी होगा। यदि किसी महिला की हथेली के बीचोंबीच त्रिभुज या धनुष जैसी आकृति हो तो वह बहुत भाग्यशाली होती है और उसे जीवन का हर सुख प्राप्त होता है। यदि किसी महिला की हथेली में कमल या फिर मछली की आकृति बनी हो तो उसका भविष्य उज्जवल होता है और उसे अपने जीवन में सभी तरह की सुख सुविधाएं प्राप्त होती हैं। किसी महिला के हाथ में ध्वज या रथ का निशान बना हो तो इसका अर्थ यह है कि उसका पति नौकरी में तरक्की करके बड़ा अधिकारी बनेगा। अगर किसी स्त्री की हथेली गुलाबी या लालिमायुक्त हो और हस्तरेखाएं मिलकर स्वास्तिक जैसी आकृति बनाती हों तो उस स्त्री को अपने जीवन में कभी आर्थिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here