Home उत्तर प्रदेश एनकाउंटर केस: सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को होगी जनहित याचिकाओं पर सुनवाई

एनकाउंटर केस: सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को होगी जनहित याचिकाओं पर सुनवाई

286
0
Listen to this article

नई दिल्ली (एजेसी)। कानपुर शूटआउट के मास्टरमाइंड विकास दुबे के एनकाउंटर की सीबीआई या एसआईटी जांच को लेकर दायर जनहित याचिकाओं पर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) एसए बोवडे की बेंच मामले सुनवाई करेगी। बेंच में जस्टिस आर सुभाष रेड्डी और जस्टिस ए बोपन्ना भी शामिल रहने वाले है।
सुप्रीम कोर्ट में मुंबई के वकील घनश्याम उपाध्याय और वकील अनूप अवस्थी ने जनहित याचिका दायर की है। याचिका में यूपी पुलिस की भूमिका की जांच की मांग की गई है।हालांकि याचिका मुठभेड़ से पहले देर रात दायर की गई थी, जिसमें विकास दुबे की भी एनकाउंटर होने की आशंका जाहिर की गई थी।
मामले में गिरफ्तार उत्तरप्रदेश पुलिस के सब इंस्पेक्टर केके शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। उन्होंने जान को खतरा होने की संभावना जाहिर की है। केके शर्मा ने पूरे मामले की जांच सीबीआई से करने की मांग की है। केके शर्मा पर विकास दुबे के लिए मुखबिरी करने का आरोप है।
यूपी सरकार ने न्यायिक आयोग का किया गठन
गौरतलब है कि यूपी पुलिस के साथ कथित मुठभेड़ में गैंगस्टर विकास दुबे की मौत की जांच के लिए यूपी सरकार ने एक आयोग का गठन किया है। इलाहाबाद हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज शशिकांत अग्रवाल मामले की जांच करने वाले है। यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमीशन के लिए उनकी नियुक्ति की।
यूपी पुलिस ने क्या किया था दावा
यूपी पुलिस ने दावा किया था कि विकास दुबे तब मारा गया था जब उज्जैन से कानपुर लेकर आ रही गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस दौरान विकास दुबे ने पुलिस की गिरफ्त से भागने की कोशिश की। पुलिस की कार्रवाई में वह मारा गया। विकास के पांच अन्य गुर्गे पुलिस के साथ एनकाउंटर में अलग-अलग जगहों पर एनकाउंटर में मारे गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here