Home उत्तर प्रदेश कानपुर “अगस्त क्रांति दिवस” एवं “अंग्रेजों भारत छोड़ो दिवस” की 78 वीं...

कानपुर “अगस्त क्रांति दिवस” एवं “अंग्रेजों भारत छोड़ो दिवस” की 78 वीं वर्षगांठ

34
0
Listen to this article

कानपुर(ब्युरो संजय मौर्या)”अगस्त क्रांति दिवस” एवं “अंग्रेजों भारत छोड़ो दिवस” की 78 वीं वर्षगांठ पर कानपुर महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री के नेतृत्व में आज कॉंग्रेस जनों ने कॉंग्रेस मुख्यालय तिलक हाल से ‘‘अंग्रेजो के मुखबिरो भारत छोड़ो” “गांधी के हत्यारों भारत छोड़ो” और “किसानों-व्यापारियों-नौजवानों के दुश्मन गद्दी छोड़ो‘‘ का नारा बुलन्द करते हुये केंद्र में सत्तारुढ़ भाजपा सरकार पर लोकतन्त्र की हत्या करने एवं तानाशाह रवैया अपनाने का गम्भीर आरोप लगाते हुये उसकी कड़ी आलोचना की।
इस अवसर पर पूरे तिलक हाल को बड़ी बड़ी तिरंगी पट्टिकाओं, झंडों-झण्डियों व स्वतंत्रता के लिये अपना सर्वस्व निछावर कर देने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, बाल गंगाधर तिलक, पंडित नेहरू, सरदार पटेल, अबुल कलाम आजाद, लाल बहादुर शास्त्री, खान अब्दुल गफ्फार खान, चंद्रशेखर आजाद, अशफ़ाक उल्ला खान, इंदिरा गांधी सहित अन्य महापुरुषों के तैल चित्र लगाये गये थे।
क्रांति दिवस सभा को सम्बोधित करते हुये अध्यक्ष श्री हर प्रकाश अग्निहोत्री ने कहा कि 9 अगस्त 1942 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने पूर्ण स्वराज्य की प्राप्ति के लिए अंग्रेजो भारत छोड़ो आन्दोलन की शुरुआत करते हुये “करो या मरो” का आवाहन किया था, जिसके परिणाम स्वरुप ही 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्र भारत का हमारा सपना साकार हो सका था।
उन्होंने कहा कि जिस आजादी को पाने के लिए भारत के हजारों – लाखों सपूतों ने अपनी जान तक क़ुर्बान की थी, आज हमारी वह आजादी हमसे छीनी जा रही है. आजादी के बाद यह पहला अवसर है जब केंद्र में बैठी भाजपा सरकार लोकतन्त्र की हत्या कर देश में अघोषित आपातकाल जैसी स्थितियां पैदा कर रही है।
श्री अग्निहोत्री ने कहा कि 9 अगस्त 1942 को अंग्रेजो के जुल्मो से निजात दिलाने व पूर्ण स्वराज्य लाने के लिए आज ही के दिन राष्ट्रपिता गांधी ने “अंग्रेजो भारत छोड़ो” का नारा दिया था. मुश्किलों से मिली उस आजादी की हम कॉंग्रेस जनों को बड़ी से बड़ी कुर्बानी देकर भी रक्षा करनी है।
उन्होंने कहा कि कॉंग्रेस जनों को पूरी द्रढ़ता और ईमानदारी के साथ लोकतन्त्र के हत्यारों को पराजित करना है।इसलिए आज इस सभा में सभी मौजूद कॉंग्रेस जन संकल्प लेते हैं कि हम हर हाल में अपने लोकतन्त्र की रक्षा करेंगे।
संयोजन पूर्व पार्षद महेंद्र त्रिपाठी पुत्तू ने एवं संचालन पीसीसी सदस्य गुलाब सिंह कोरी ने किया।
कार्यक्रम में महापुरुषों को नमन एवं पुष्पांजलि अर्पित करने वालों में प्रमुख रूप से शंकर दत्त मिश्र, इकबाल अहमद, अशोक धानविक, निजामुद्दीन खां, कमल शुक्ला बेबी, ग्रीन बाबु सोनकर, कृपेश त्रिपाठी, बृजभान राय, प्रमोद गुप्ता, राजेन्द्र सिंह टील्लू, मेवालाल कठेरिया, फ़ज़ल खान, रामनारायण जैस, राजू कश्यप, ज़फ़र शाकिर, संदीप चौधरी, नसीम हीरा आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here