Home आप बीती प्रणब मुखर्जी की हालत नाजुक, स्वास्थ्य कामना के लिए पैतृक गांव में...

प्रणब मुखर्जी की हालत नाजुक, स्वास्थ्य कामना के लिए पैतृक गांव में अखंड यज्ञ शुरू

96
0
प्रणब मुखर्जी की हालत नाजुक, स्वास्थ्य कामना के लिए पैतृक गांव में अखंड यज्ञ शुरू
Listen to this article

कोलकाता (एजेन्सी)। भारतीय राजनीति में आरोपों से निरापद रहे पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के मस्तिष्क में सर्जरी के बाद से उनकी हालत नाजुक है और इस बीच पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के किरनाहार में उनके जल्दी ठीक होने की कामना को लेकर मंगलवार से एक यज्ञ शुरू हो गया है।

मुखर्जी के पैतृक गांव में शुरू हुआ यह यज्ञ 72 घंटे तक चलेगा। सर्जरी से पहले 84 वर्षीय पूर्व राष्ट्रपति में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई थी। वह सेना के आरएंडआर अस्पताल में अभी वेंटिलेटर पर हैं। प्रणब मुखर्जी के इलाज के बीच ही बीरभूम में यह जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर शुरू हुआ है।

यह यज्ञ बिना किसी रुकावट के यह तीन दिन तक जारी रहेगा। बीरभूम के जिस मंदिर में यह यज्ञ हो रहा है, वहां के मुख्य पुजारी ने इसकी जानकारी दी। पुजारी ने कहा, ‘महामृत्युंजय यज्ञ से प्रणब बाबू के स्वास्थ्य में निश्चित तौर पर सुधार होगा। वह किरनाहार के सपूत हैं।’

मुखर्जी की बहन एवं परिवार के अन्य सदस्यों ने उनके ठीक होने के लिये प्रार्थना की। सोमवार को मुखर्जी ने ट्वीट कर कहा था कि उनमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है और उन्होंने पिछले हफ्ते अपने संपर्क में आये सभी लोगों को क्वारंटीन में जाने और कोरोना जांच कराने का आग्रह किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here