Home तकनीकि आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है पीएम का संबोधन

आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मजबूती देने वाला है पीएम का संबोधन

226
0
आत्मनिर्भर भारत
Listen to this article

नई दिल्ली (एजेन्सी)। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को मज़बूती देने वाला है। मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लालिकले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुये कहा कि कोरोना महामारी के बीच भारतीयों ने आत्म-निर्भर होने का संकल्प लिया है और यह केवल शब्द नहीं बल्कि सभी लोगों के लिए मंत्र है। उन्होंने लोगों से आत्म-निर्भर भारत के लिये स्वयं को तैयार रखने को कहा।

प्रधानमंत्री के आह्वान की सराहना करते हुए सिंह ने शनिवार को कहा कि इस संकल्पपूर्ति में चुनौतियाँ भले ही हों, मगर इस देश के भीतर सभी समस्याओं का समाधान देने का सामर्थ्य है। रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, आज स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्बोधन आत्म-निर्भर भारत के संकल्प को मज़बूती देने वाला है। उन्होंने कहा कि विश्व कल्याण के लिए आत्म-निर्भर भारत ज़रूरी है। विश्व में भारत की भूमिका और योगदान प्रभावी हो, यह संकल्प हम सभी भारतीयों को लेना चाहिये।

रक्षामंत्री सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री ने स्पष्ट किया है कि देश में वह कौशल और सामर्थ्य है जिसके बल पर भारत वैश्विक अर्थव्यवस्था को नई दिशा और गति दे सकता है। उन्होंने आत्म-निर्भर भारत के लिये प्रधानमंत्री द्वारा तय की गयी रूपरेखा का स्वागत किया। रक्षा मंत्री ने कहा, आज प्रधानमंत्री का मानना है कि हमें कोरोना वायरस की आपदा को अवसर में बदलना है।

आज उन्होंने देश के सामने विकास की एक नई रूपरेखा रखी है, जिसके चलते यह भावना बलवती हुई है कि यह असम्भव सा लगने वाला काम भी सम्भव होगा। मोदी द्वारा घोषित राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के बारे में सिंह ने कहा कि यह योजना स्वास्थ्य क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन लाएगी। सिंह ने कहा, कोरोना संकट का सामना कर रहे भारत में स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हुए प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन की घोषणा की है।

एक डिजिटल आईडी के सहारे सभी देशवासी अपना इलाज कहीं से भी करा सकेंगे। यह योजना स्वास्थ्य क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन लाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने लाल क़िले की प्राचीर से एनसीसी का विस्तार देश के 173 सीमावर्ती और तटीय जिलों तक करने की घोषणा की है। रक्षा मंत्रालय इस काम को प्राथमिकता के आधार पर करने के लिए पूरी तरह तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here