Home क्राइम नाबालिग से गैंगरेप के खिलाफ थाने से लेकर कलेक्ट्रेट तक धरना प्रदर्शन

नाबालिग से गैंगरेप के खिलाफ थाने से लेकर कलेक्ट्रेट तक धरना प्रदर्शन

58
0
kranti-samay-rajbhasha
Listen to this article

दौसा(एजेसी)। जिले के मंडावरी थाना इलाके में करीब 2 सप्ताह पहले मूक बघिर बालिका से हुए गैंगरेप प्रकरण को लेकर दौसा में जगह-जगह धरना और प्रदर्शनों का दौर चल रहा है। अब भीम आर्मी ने कलक्ट्रेट पर पड़ाव डाल दिया है। लालसोट थाने के बाहर धरना-प्रदर्शन से लालसोट कस्बा अस्त-व्यस्त हो गया है। पूर्व संसदीय सचिव और बीजेपी नेता जितेंद्र गोठवाल ने समर्थकों के साथ शहर की मुख्य सड़क के बीच में बैठकर पुलिस और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की।

इससे शहर की यातायात व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई और वहां वाहनों की लंबी कतारें भी लग गई। प्रदर्शनकारियों ने गैंगरेप पीड़िता को सरकारी नौकरी, आर्थिक मुआवजा और फरार चल रहे अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग रखी। दिन भर चले गतिरोध के बाद कलक्टर पीयूष समारिया और पुलिस अधीक्षक मनीष अग्रवाल से चर्चा के बाद थाने के बाहर चल रहा धरना प्रदर्शन रात करीब 1 बजे समाप्त हो गया। वहीं दौसा कलक्ट्रेट के बाहर भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं के धरना के कारण रात में पुलिस तैनात कर दी गई, रात के समय भी धरना जारी रहा।

उल्लेखनीय है कि मंडावरी थाना के एक गांव में नाबालिग मूकबधिर बालिका को कुछ लोग अगवा करके गांव के ही धार्मिक स्थल पर ले गए और यहां 10 से 12 लोगों ने बारी-बारी से रेप किया। आरोपियों की संख्या एक दर्जन बतायी जा रही है। पीड़िता का पिता विदेश में मजदूरी करता है और मां रक्षाबंधन पर अपने पीहर गई थी। जब पीड़िता की मां वापस अपने ससुराल आई तो ग्रामीणों ने घटना की जानकारी दी। इसके बाद थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया। पुलिस ने मामले में सभी 5 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मुक बधिर के शिक्षक के माध्यम से पीड़िता के बयान दर्ज किए गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here