Home खेल कोरोना महामारी के बाद इन खिलाड़ियों ने खेल को अलविदा कहा

कोरोना महामारी के बाद इन खिलाड़ियों ने खेल को अलविदा कहा

140
0
कोरोना महामारी के बाद इन खिलाड़ियों ने खेल को अलविदा कहा
Listen to this article

नई दिल्ली (ईएमएस)जापान की ओलंपिक चैंपियन अयाका ताकाहाशी ने खेल से संन्यास की घोषणा कर दी है। बैडमिंटन के युगल वर्ग की इस खिलाड़ी ने अपने संन्यास की घोषणा करते हुए कहा कि टोक्यो ओलंपिक एक साल के लिए स्थगित होने के कारण वह इन खेलों के लिए अपनी प्रेरणा को बरकरार नहीं रख पाएंगी, इसलिए उन्होंने संन्यास लेने का फैसला किया है।

ताकाहाशी ने कहा, ”टोक्यो ओलंपिक के अगले साल तक के लिए स्थगित होने के बाद मैं अपनी प्रेरणा को बरकरार नहीं रख पाऊंगी। मैंने सोचा था कि मैं ओलंपिक क्वालीफिकेशन अवधि तक खेलूंगी पर अब मैंने अपने बैडमिंटन करियर को विराम लगाने का फैसला किया है।”

ताकाहाशी ने साल 2016 रियो ओलंपिक के युगल वर्ग में अपनी जोड़ीदार मिसाकी मतसुतोमो के साथ स्वर्ण पदक जीता था। इसके अलावा उन्होंने 2018 में अपने देश के लिए उबेर कप जबकि विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक हासिल किया था। इसके अलावा उन्होंने दो बार एशिया बैडमिंटन चैंपियनशिप और ऑल इंग्लैंड खिताब भी जीता था।
ताकाहाशी और उनकी जोड़ीदार मतसुतोमो युगल वर्ग की मौजूदा रैंकिंग में सातवें स्थान पर हैं। इस जोड़ी ने अंतिम टूर्नामेंट मार्च में ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप खेली थी। इसमें उन्होंने शीर्ष वरीयता प्राप्त चीन की जोड़ी चेन किंगचेन और जिया यिफान को हराया था। इसके बाद से ही कोरोना महामारी के कारण खेल मुकाबले रुके हुए हैं।

कैमरन वाइट पूर्व ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर कैमरन वाइट ने पेशेवर क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। इसी के साथ वाइट का दो दशक से चला आ रहा क्रिकेट सफर समाप्त हो गया। वाइट के अनुसार अब वह कोचिंग पर ध्यान देंगे।
वाइट ने कहा, ‘मैंने खेलना बंद कर दिया है।’ उन्होंने कहा, ‘मेरा स्ट्राइकर्स टीम के साथ एक साल का करार था जो पूरा हो गया है। मैं पिछले साल उनके लिये कुछ मैचों में ही खेला और फिर से करार हासिल करने के लिये मुझे उन मैचों में अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत थी जो नहीं हो पाया।’

वाइट ने कहा, ‘मैं बहुत संतुष्ट हूं और मुझे लगता है कि खिलाड़ी के रूप में मेरा समय समाप्त हो गया है इसलिए अब मैं कोचिंग पर ध्यान देने जा रहा हूं।’ वाइट अभी विक्टोरिया की अंडर-19 टीम को ऑनलाइन कोचिंग दे रहे हैं। वाइट ने ऑस्ट्रेलिया की ओर से चार टेस्ट, 91 एकदिवसीय और 47 टी 20 मैच खेले हैं। उन्होंने साथ ही सीमित ओवरों के सात मैचों में उन्होंने टीम की कप्तानी भी की थी।

थरंगा परानाविताना श्रीलंका के पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज थरंगा परानाविताना ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्यास ले लिया है। परानाविताना ने अपने करियर के दौरान 32 टेस्ट मैच में 32.58 के औसत से 1792 रन बनाए हैं जिसमें दो शतक भी शामिल हैं। इसके साथ ही उन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट के 222 मुकाबलों में 14940 रन बनाए हैं।
प्रथम श्रेणी में उन्होंने 40 शतक लगाये हैं। परानाविताना साल 2009 में पाकिस्तान दौरे के लिए श्रीलंकाई टीम का हिस्सा थे। इस सीरीज के दौरान श्रीलंका टीम की बस पर आतंकी हमला हुआ था जिसमें वह भी घायल हुए थे। परानाविताना ने अंतिम बार साल 2012 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here