Home देश-दुनिया शिक्षक दिवस पर राष्ट्रपति कोविंद, उपराष्ट्रपति नायडू और पीएम मोदी सहित...

शिक्षक दिवस पर राष्ट्रपति कोविंद, उपराष्ट्रपति नायडू और पीएम मोदी सहित कई नेताओं ने शिक्षकों के योगदान को सराहा

94
0
शिक्षक दिवस पर राष्ट्रपति कोविंद, उपराष्ट्रपति नायडू और पीएम मोदी सहित कई नेताओं ने शिक्षकों के योगदान को सराहा
Listen to this article

नई दिल्ली (एजेंसी)। आज शिक्षक दिवस पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई नेताओं ने राष्ट्र निर्माण में शिक्षकों के योगदान की प्रशंसा करते हुए कहा कि छात्रों को गढ़ने के उनके प्रयासों के लिए देश सदैव उनका आभारी रहेगा। प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘राष्ट्र निर्माण और छात्रों को गढ़ने में हमारे मेहनती शिक्षकों के योगदान के प्रति हम सदैव आभारी रहेंगे। शिक्षक दिवस के मौके पर अपने शिक्षकों के अतुलनीय प्रयासों के लिए हम उनका आभार जताते हैं।’ इस अवसर पर मोदी ने पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन को याद करते हुए उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। डॉ. राधाकृष्णन की जयंती को देश में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा कि शिक्षकों से बेहतर कौन देश के भव्य इतिहास से हमारे जुड़ाव को और गहरा कर सकता है। इसके साथ ही उन्होंने पिछले रविवार के अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के उस अंश को भी साझा किया जिसमें उन्होंने छात्रों और शिक्षकों से स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों की कहानियों को सामने लाने का आग्रह किया था। अपने संबोधन में उन्होंने गुमनाम नायकों की कहानी सामने लाने के लिए शिक्षकों से इसके लिए तैयारी शुरू करने और एक माहौल बनाने की दिशा में काम शुरू करने का आह्वान किया था।

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने भी शिक्षक दिवस की बधाई देते हुए कहा कि आज का दिन उन शिक्षकों को धन्यवाद देने का है, जो इस महामारी के दौरान भी अपने विद्यार्थियों के बेहतर भविष्य के लिए अनवरत प्रयास कर रहे हैं। उपराष्ट्रपति सचिवालय ने नायडू की ओर से ट्वीट किया, ‘शिक्षक दिवस के अवसर पर सभी गुरुजनों का अभिनन्दन! आज हम सब मिलकर, देश के उन सभी शिक्षकों को धन्यवाद दें जो इस महामारी के दौरान भी अपने विद्यार्थियों के बेहतर भविष्य के लिए अनवरत प्रयास कर रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘उनके समर्पण, साहस और उनकी निस्वार्थ सेवा को सलाम करें।’ नायडू ने देश के प्रथम उपराष्ट्रपति तथा द्वितीय राष्ट्रपति रहे डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि भी दी। उपराष्ट्रपति ने कहा,

  1. ‘वह सुप्रसिद्ध शिक्षक,
  2. विचारक, विद्वान,
  3. राजनेता और
  4. लेखक थे।

उनका जीवन, काम और विरासत प्रत्येक भारतीय को प्रेरित करता रहेगा।’ गौरतलब है कि हर साल पांच सितंबर को डॉ. राधाकृष्णन की जयंती ‘शिक्षक दिवस’ के रूप में मनाई जाती है।

उधर, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि राष्ट्रोत्थान में शिक्षकों का योगदान सदैव देश का मार्गदर्शन करता रहेगा। उन्होंने ट्वीट किया, ‘पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की जयंती पर मनाए जाने वाले शिक्षक दिवस की सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। शिक्षा से ज्ञान एवं शिक्षक से मार्गदर्शन प्राप्त होता है। आपके द्वारा राष्ट्रोत्थान के लिए दी गई शिक्षाएं हमारा सदैव मार्गदर्शन करती रहेंगी।’ पांच सितम्बर को सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती है। शिक्षा के क्षेत्र में उनके अभूतपूर्व योगदान के लिए तथा उनकी स्मृति में इस दिन को प्रतिवर्ष शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here