Home दिल्ली ब्रिटिश पीएम जॉनसन की भारत यात्रा से पहले हाउस आफ लार्ड्स की...

ब्रिटिश पीएम जॉनसन की भारत यात्रा से पहले हाउस आफ लार्ड्स की सूची से

366
0
ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन

नई दिल्ली (एजेंसी)। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के भारत दौरे से पहले ब्रिटेन के हाउस ऑफ लॉर्ड्स में बड़ी हलचल मची है। लेबर पार्टी के सांसद केर स्टार्मर ने खालिस्तानी मूवमेंट का समर्थन करने वाले दबिंदरजीत सिंह सिद्धू को हाउस ऑफ लॉर्ड्स के लिए नामित किया था, लेकिन अब इस फैसले को वापस ले लिया है। ब्रिटेन में भारतीय कम्युनिटी द्वारा लगातार हुए विरोध के बाद दबिंदरजीत सिंह सिद्धू को हाउस ऑफ लॉर्ड्स के नॉमिनी की लिस्ट से वापस ले लिया गया।

इस तरह ब्रिटिश प्रधानमंत्री के भारत दौरे से पहले बड़ा विवाद होने से टल गया। गौरतलब है कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन इस बार गणतंत्र दिवस पर बतौर मुख्य अतिथि भारत आ रहे हैं। दबिंदरजीत सिद्धू खालिस्तानी मूवमेंट का सपोर्टर रहा है और सिख फेडरेशन का एडवाइजर है। इसके अलावा वह यूके ऑल पार्टी पार्लियामेंट्री ग्रुप का हिस्सा है, जिसमें प्रीत गिल और तनमनजीत सिंह ढेसी जैसे अन्य ब्रिटिश सिख सांसद हैं।

जिस इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन को भारत में आतंकी संगठन बताया गया था, सिद्धू उसका भी मेंबर रह चुका है। लंदन में हाल ही में हुए किसानों के प्रदर्शन में भी सिद्धू दिखाई दिया था। हालांकि, एक ओर सिद्धू का नाम लिस्ट से हटाया तो दूसरी ओर केर स्टार्मर ने वाजिद खान को नॉमिनेट कर दिया है, जो कि लेबर फ्रेंड्स ऑफ कश्मीर ग्रुप का फाउंडर हैं। ये ग्रुप लगातार कश्मीर के मसले को उठाता है, वाजिद खान मूल रूप से पाकिस्तानी है, जो अक्सर ब्रिटेन में भारत विरोधी बयान देता रहता है।

आपको बता दें कि किसानों से जुड़े आंदोलन को ब्रिटेन में बड़े रूप में समर्थन मिला है। ब्रिटिश संसद में भी इस मसले को उठाया गया है। जबकि भारतीय एम्बेसी के बाहर लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here