Home उत्तर प्रदेश BHU के प्रोफेसर हैं हिजड़े, 170 प्रोफेसर्स की डिग्री फर्जी-सपा नेता ने...

BHU के प्रोफेसर हैं हिजड़े, 170 प्रोफेसर्स की डिग्री फर्जी-सपा नेता ने कहा

36
0
Listen to this article

एजेन्सी, वाराणसी. बीएचयू को एम्स बनाने की मांग को लेकर सिंह द्वार से सपा कार्यकर्ताओं ने रविवार को जमकर विरोध-प्रदर्शन कर रैली निकाली। सपा के जिलाध्यक्ष सतीश फौजी ने बीएचयू के सिक्युरिटी अफसरों के सामने ही कहा कि बीएचयू के प्रोफेसर हिजड़े हैं। 170 प्रोफेसरों की डिग्री नकली है। किसी और की पीएचडी पर प्रोफेसर बनकर सालों से नौकरी कर रहे हैं। आगे पढ़िए बीएचयू के डॉक्‍टरों के बारे में क्‍या कहा…
-सपा जिला अध्‍यक्ष ने कहा कि बीएचयू के डॉक्टर लुटेरे हैं। मालवीय जी ने जहां पूजा किया था, वहां ट्रॉमा सेंटर बनवा दिया।
-इस मामले में बीएचयू राजनीति शास्त्र विभाग के हेड प्रो. कौशल किशोर मिश्रा ने कहा कि जिलाध्यक्ष का यह शर्मनाक बयान है।
-अखिलेश यादव ऐसे लोगों को तुरंत पार्टी से बाहर करें और खुद सामने आकर बीएचयू के प्रोफेसरों से माफ़ी मांगें।
-आने वाले दिनों में इस बयान से सपा को भारी नुकसान होने वाला है।
– वही कांग्रेसी विधायक अजय राय ने कहा कि ऐसे लोग असंसदीय भाषा का प्रयोग करके लाइम लाइट में आना चाहते हैं।
-दया शंकर सिंह और बसपा की जंग में अपनी जगह तलाश रहे हैं। ये बातें काफी निंदनीय है।
वादे से मुकर गई बीजेपी
-सतीश फौजी यही नहीं रुके। उन्होंने कहा कि अमित शाह ने पूर्व में इस पर मोहर लगा दिया था, तो बाद में अपने वादे से क्‍यों मुकर गए।
-उन्होंने कहा कि बीएचयू में एम्स न खोलने वजह से गोरखपुर में खोला जा रहा है जिसका हम विरोध नहीं करते, लेकिन यहां भी एम्स खोला जाना चाहिए।
-बीएचयू से पूर्वांचल ही नहीं, बल्कि कई राज्य जुड़े हैं, जहां के लोग यहां इलाज कराने आते हैं।
-मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यह सिर्फ वादा करते हैं उसे निभाते कभी नहीं हैं।
पीएम का संसदीय क्षेत्र होने के बाद भी नहीं खुला एम्‍स
-वहीं बीएचयू में एम्स खोलने को लेकर वर्षों से संघरर्षत बीएचयू के डॉ. ओमशंकर ने कहा कि यह पीएम का संसदीय क्षेत्र है।
-ऐसे में हमें लगा था कि वो यहां की समस्या को समझेंगे और हमारे एम्स खोलने की मांग को स्वीकार करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।
-इतना ही नहीं, ओमशंकर ने कहा कि हम आगामी यूपी विधानसभा चुनाव में भी इस मुद्दे को लेकर बीजेपी के विरोध में खड़े होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here