Home दिल्ली कश्मीर मुद्दे पर कल होगी सर्वदलीय बैठक, पीएम मोदी भी होंगे शामिल

कश्मीर मुद्दे पर कल होगी सर्वदलीय बैठक, पीएम मोदी भी होंगे शामिल

39
0
Listen to this article

एजेन्सी, विपक्ष के बार-बार दबाव के चलते कश्मीर के हालात पर बुधवार को राज्यसभा में चर्चा हुई. चर्चा के दौरान गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि घाटी में जो भी चल रहा है, वह पाकिस्तान प्रायोजित है. लेकिन हम पाकिस्तान से अब कश्मीर पर नहीं. बल्कि पाक अधिकृत कश्मीर पर ही बात करेंगे. संबंधित खबरें. आतंकी बहादुर अली ने कबूला- कश्मीर को सुलगाने के पीछे लश्कर और पाकिस्तान · लोगों के लिए कश्मीर से प्यार करो: आजाद · कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा नहीं: शरीफ.
राजनाथ ने दिया जवाब
राजनाथ सिंह ने राज्यसभा में चर्चा के बाद कहा कि कश्मीर मुद्दे पर सरकार ने 12 अगस्त को सभी पार्टियों की बैठक बुलाई है. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रहेंगे. राजनाथ सिंह ने साफ किया कि कश्मीर में लगातार कर्फ्यू नहीं लगाया गया है. हालांकि अभी हालात सामान्य नहीं हैं वहां पर. मगर सरकार पूरी कोशिश कर रही है की स्थिति जल्दी ठीक हो.
विपक्ष ने ली पीएम पर चुटकी
राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने पीएम मोदी पर सीधा हमला करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री संसद में बोलने की बजाय गंभीर मुद्दों पर सदन के बाहर बोलना पसंद करते हैं. आजाद ने प्रधानमंत्री पर छुटकी लेते हुए कहा कि मध्य प्रदेश कब से हिंदुस्तान की राजधानी और संसद बन गया कि प्रधानमंत्री वहां से बोल रहे थे. जबकि उनसे चार बार यह मांग की जा चुकी है की पीएम को सदन में आकर बोलना चाहिए, उसके बावजूद भी प्रधानमंत्री यहां बोलना पसंद नहीं करते.
कश्मीर के लोगों से प्यार करो: आजाद
आजाद ने पीएम को घेरते हुए कहा कि अफ्रीका में कोई घटना होती है तो वह अपना ट्वीट कर देते हैं. पाकिस्तान में कोई घटना हो तो भी अपनी सहानुभूति दिखाते हैं, पर अपने मुल्क का ताज जल रहा है और उसकी गर्मी दिल तक नहीं पहुंचती. आजाद ने कहा कि कश्मीर को फूलों और वादियों के लिए प्यार नहीं करो, बल्कि वहां बसने वाले लोगों से प्यार करो. इस बीच अरुण जेटली ने भी कहा कि जम्मू कश्मीर आज सेंसिटिव स्थिति में है, इसलिए आवश्यक है कि सदन में एक आवाज बन कर मैसेज दिया जाए.
अब 12 अगस्त की सर्वदलीय बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा होगी, यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बैठक में मौजूद रहेंगे. विपक्ष की कोशिश यही रहेगी कि कश्मीर मुद्दे पर प्रधानमंत्री सदन में नहीं तो इस बैठक पर जरूर बोलें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here