Home बड़ी खबरें मध्यप्रदेश में भी इसांनियत को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई

मध्यप्रदेश में भी इसांनियत को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई

42
0
Listen to this article

मध्यप्रदेश,जहां एक ओर ओडिशा से पत्नी का शव कंधे पर ले जाने और और शव की हड्डिया तोड़कर पोटली में बदल कर लेजाने की इंसानियत को शर्मसार करने वाली खबरें आ रही हैं, उसी बीच मध्यप्रदेश में भी इसांनियत को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है।
मध्य प्रदेश के दमोह जिले में एक व्यक्ति को उसकी पत्नी के शव और 5 दिन की बेटी के साथ बस से उतार दिया गया। यहां और अधिक शर्मसार करने वाली बात यह है कि उसे बीच जंगल में उतारा गया।
गुजर रहे वकीलों ने की मदद
व्यक्ति अपनी बीमार पत्नी को अपनी 5 दिन की बेटी के साथ लेकर इलाज के लिए अस्पताल जा रहा था, लेकिन रास्ते में ही उसकी पत्नी की मौत हो गई। इसके बाद उसे बीच जंगल में ही पत्नी के शव के साथ जबरदस्ती उतार दिया गया। इस शख्स का नाम राम सिंह बताया जा रहा है।
कुछ देर बाद उसी रास्ते से दो वकील मृत्युंजय हजारी और राजेश पटेल गुजर रहे थे। उन्होंने देखा कि राम सिंह अपनी 5 साल की बेटी को जंगल के बीच में बारिश के बीच दूध पिलाने की कोशिश कर रहा है। वहीं पास में उसकी पत्नी का शव भी पड़ा हुआ था और साथ में एक बुजुर्ग महिला थी।
पुलिसवालों ने भी नहीं की मदद
दोनों वकीलों ने जब ये देखा तो पुलिस को इसकी सूचना दी। वकीलों का आरोप है कि पुलिसवाले सूचना पाकर आए तो, लेकिन सिर्फ जानकारी इकट्ठा करके चले गए। पुलिस वे उस शख्स की कोई मदद नहीं की। वकील राजेश पटेल का कहना है कि उन्होंने इसके बाद एक प्राइवेट एंबुलेंस बुलाई और फिर राम सिंह की पत्नी के शव को उनके घर पहुंचाया।
राम सिंह की मां का कहना है कि जब से उनकी बहू ने बच्ची को जन्म दिया था तभी से वह बीमार थी, जिसके इलाज के लिए वे अस्पताल जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। इसके बाद बस वालों ने दमोह से करीब 20 किलोमीटर दूर जांगल में ही उतार दिया।
ड्राइवर-कंडक्टर हिरासत में
जब इस मामले पर बस कंडक्टर से बात की गई तो उसने कहा कि बस के यात्रियों को शव के साथ यात्रा करने में दिक्कत हो रही थी, इसलिए उनकी जिद पर ही राम सिंह को उसकी पत्नी के शव, उसकी मां और 5 साल की बच्ची के साथ बस से उतार दिया गया।
जब इस बारे में बैतियागढ़ पुलिस स्टेशन के पीडी मिंज से बात की गई तो वे बोले कि ऐसी किसी भी घटना की उन्हें जानकारी नहीं है। वहीं, जब मीडिया ने ये मामला उठाया तो प्रशासन हरकत में आया। पुलिस ने फिलहाल बस को जब्त कर लिया है और बस के ड्राइवर और कंडक्टर ऐसा करने के लिए गिरफ्तार कर लिया गया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here