Home सूरत सुरत महानगरपालिका के विस्तार में सारे अवैध बांधकाम, वैध करते हैं अधिकारी...

सुरत महानगरपालिका के विस्तार में सारे अवैध बांधकाम, वैध करते हैं अधिकारी के जरिये

40
0
Listen to this article

सुरत,सुरत महानगर पालिका छोटे- छोटे डिमोलिशन कर लगता हैं कि बहुत बड़ा अवैध काम को रोक दिया लेकिन ऐसा नही होता हैं, सुरत महानगर पालिका के जो भी अधिकारी हैं वह पहले अपना काम इतना ध्यान से करते हैं,कि किसी आदमी का मकान बन रहा हो तो अपनी पूरी टीम के साथ वहा पर रोकने के लिये पहुच जाते हैं,लेकिन किसी बड़े बन रहे अवैध बांधकाम को सुरत महानगर पलिका के अधिकारी को पता तक नही चलता हैं, कब्जा रसीद पर कोई छोटा नही लेकिन बहुत बडे जो एक आम आदमी के लिये बहुत बडा होता हैं,उस पर कोई कार्य वाही नही करते हैं, जिस पर अधिकारी की छत्र छाया उसकी सलामती नही तो होगा डिमोलिशन.
इस तरह से चलता उधना, पांडेसरा, डिंडोली, लिबायत, जिसमें मकान पर अवैध बताकर डिमोलिशन कर देते हैं, लेकिन कोम्शिय्ल बांधकाम और इण्डस्ट्रीयल पर आधिकारी की महेरबानी से सारी अवैध काम वैध ढंग से करते हैं जिसका नमूना लिबायत के महाप्रभु नगर में,डिंडोली ब्रीज के पास में , भेस्तान के भगवती इन्डे. और गुरुकुपा इन्डे. में , बमरोली के गणपत नगर में , रायका सर्कल पर , यह सारे आधिकरी को अवैध बांधकाम वैध लगते हैं लेकिन जो कार्यवाही यहाँ पर करनी चाहिए वह छोटे- बांधकाम को देखकर डिमोलिशन कर अपने कर्तव्य का पालन करते हैं इस तरह से लोगों का कहना हैं, आम आदमी अगर रोजीरोटी के लिये कुछ काम धंधा करते हैं तो भी मनपा के अधिकारी को गेर क़ानूनी लगता हैं इस सब के पीछे सिर्फ राजकरण ही काम करते हैं, किसका क्या करना हैं वह अधिकारी नही लेकिन राजनीति के कुछ लोग तय करते हैं जो आगे आप के समाने धीरे धीरे समाने आ रहा हैं
यहाँ पर सब खेल इसका हैं
money_146729835335_650x425_063016082359

जिसमें लोगों को अलग-अलग ढग से बसूला जाता हैं, कहीं पर रसीद देकर कही पर बिना रसीद के ही .जो सूत्रों के जरिये जानकारी मिली हैं जिसका आगे का विवरण कुछ समय में क्रांति समय में आने वाला हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here