Home जम्मू-काश्मीर राजनाथ ने पाक को कड़ा संदेश देते हुए कहा, ‘हमला हुआ तो...

राजनाथ ने पाक को कड़ा संदेश देते हुए कहा, ‘हमला हुआ तो गोलियां नहीं गिनेंगे’

35
0
Listen to this article

भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव को देखते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) को हर स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा है। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी भी दी और कहा कि अगर हमारी तरफ कोई बुरी निगाह डालेगा और हम पर आक्रमण करेगा तो फिर हमारे सैनिक ट्रिगर पर उंगली रख देते हैं। फिर हम बंदूक से निकली हुई गोलियों भी नहीं गिनते।
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने यह बात पाक सीमा से सटे बाड़मेर के मुनाबाव में सीमा चौकियों के दौरे के दौरान कही। जवानों को संबोधित करते हुए उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी दी कि भारत कभी किसी पर आक्रमण नहीं करता। भारत की कभी यह नीति नहीं रही है कि हम दूसरे की जमीन पर कब्जा करें। हमारी तरफ अगर कोई बुरी निगाह डालेगा और हम पर आक्रमण करेगा तो फिर हमारे सैनिक ट्रिगर पर उंगली रख देते हैं। फिर हम बंदूक से निकली हुई गोलियों की गिनती नहीं करते हैं।
भारत हमेशा पूरी दुनिया को एक परिवार की तरह मानता हैं। बीएसएफ के जवानों के हौसले की तारीफ करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि इस जलते हुए रेगिस्तान में जिस तरह आप काम करते हो, हम आपकी बेहतरी के लिए और आपके हालात को ठीक करने में कोई कसर नही छोड़ेंगे। सैनिकों को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि वे जवानों के जज्बे को सलाम करते हैं। क्योंकि आज इतनी विपरीत परिस्थितियों में वह देश की सीमाओं की मुस्तैदी से रक्षा कर रहे हैं। उन्होंने बीएसएफ के जवानों को सतर्क रहने की हिदायत देते हुए कहा,‘सीमाओं पर जो स्थितियां चल रही हैं उससे आप वाकिफ हैं। मुझे पता है कि आप हर चुनौती का सामना बेहतर तरीके से करने में सक्षम हैं फिर भी आपको हर स्थिति के लिए हरदम तैयार रहना चाहिए।’ इस दौरान उनके साथ केंद्रीय राज्य मंत्री किरण रिजिजू ,राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चंद्र कटारिया समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे। मुनाबाव चौकी भारत की सीमा का वह स्थान है जहां से थार एक्सप्रेस पाकिस्तान के लिए आगे बढ़ती है। स्कूटर पर बैठ सीमा का जयाजा लिया राजनाथ सिंह शुक्रवार को शाहगढ बल्ज क्षेत्र से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा चौकी मुरार पहुंचे थे। यहां उन्होंने स्कूटर पर शिफ्टिंग डयून्स सीमा पर सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने सीमा चौकी मुरार के अलावा नलका ,सोमागेप आदि क्षेत्र का दौरा कर वहां विषम परिस्थितियों में देश की सीमाओं की मुस्तैदी से रक्षा कर रहे जवानों के सुरक्षा संबंधी क्रियाकलापों को देखा और उनकी हौसलाअफजाई की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here