Home दिल्ली देश में घुसा म्यांमार का युवक, कहा-पाकिस्तान में है मेरी बहन- बिना...

देश में घुसा म्यांमार का युवक, कहा-पाकिस्तान में है मेरी बहन- बिना पासपोर्ट का युवक

59
0
Listen to this article

भले ही पाकिस्तान दुनिया भर में अकेला पड़ जाए लेकिन वह आतंकवाद को लेकर अपनी राह बदलने को तैयार नहीं। जब बांग्लादेश ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की भारत विरोधी गतिविधियों पर लगाम लगा दिया तो उसने अब म्यांमार के रास्ते भारत को लहूलुहान करने का रोडमैप तैयार किया है। दो दिन पहले म्यांमार पुलिस ने बांग्लादेश सीमा पर पाक से प्रशिक्षण प्राप्त रोहंगिया इस्लामी आतंकियों के एक गुट का पर्दाफाश किया है। यह जानकारी भारत के साथ साझा की गई है। सूत्रों के मुताबिक, म्यांमार में दो-तीन वर्ष पहले रोहंगिया मुसलमानों के खिलाफ दंगे-फसाद हुए थे। उसके बाद बड़ी संख्या में ये लोग भारत और नेपाल होते हुए पाकिस्तान जाने में सफल रहे। यह सूचना पहले से मिल रही थी कि इनमें से कुछ लोगों को आईएसआई ने पाकिस्तान तालिबान की मदद से आतंकी प्रशिक्षण देना शुरू किया है। इधर, म्यांमार-बांग्लादेश सीमा पर अका अल मुजाहिद्दीन (एएएम) नाम से आतंकी संगठन के सक्रिय होने की सूचना मिली थी। अब म्यांमार पुलिस की कार्रवाई के बाद इस आतंकी संगठन के बारे में मिल रही सारी सूचनाएं सही साबित हुई हैं। यह कितना ताकतवर हो गया है, यह इससे ही जाहिर है कि मुठभेड़ में म्यांमार पुलिस के नौ जवान मारे गए हैं। आठ आतंकी भी मारे गए हैं। एएएम का नेता हाफिज तोहर है जिसने आतंकवादी साजिश के गुर आइएसआइ और तालिबान के साथ रहकर सीखे हैं। सूत्रों का कहना है कि म्यांमार में दंगे-फसाद से नाराज मुस्लिम युवाओं को आतंक की राह पर ले जाने के लिए कुख्यात आतंकी हाफिज सईद का संगठन लश्करे-तैय्यबा भी काम कर रहा है। सईद ने अपने एक खास सहयोगी कादुस बुरमी को म्यांमार में आतंक की जड़ फैलाने की जिम्मेदारी सौंपी थी। हाफिज सईद का संगठन पाकिस्तान में कई जगहों पर रोहंगिया मुसलमानों के लिए दान इकट्ठा करने का काम भी करता है। कहने की जरूरत नहीं कि वह यह काम अकेले नहीं कर रहा है बल्कि इसमें आईएसआई की भी पूरी साजिश है। यह पहला मौका नहीं है जब म्यांमार के रास्ते आतंक की फौज खड़ी कर भारत को परेशान करने की साजिश का भंडाफोड़ हुआ है। पिछले वर्ष बांग्लादेश पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के सहयोग से रोहंगिया मुसलमानों में आतंक को बढ़ावा देने की साजिश का भंडाफोड़ किया था। सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान हुक्मरानों को यह लग रहा है कि बांग्लादेश में उनकी आतंक की दुकानदारी बंद होने के बाद अब म्यांमार के रास्ते वे भारत, खास तौर पर पूर्वोत्तर में अपने खूनी खेल को अंजाम दे सकते हैं bangladesh-man-entered-in-india-without-passport-from-myanmar_1476946626
21_10_2016-20amb43

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here