Home बड़ी खबरें जबलपुर मे सामने आया भाजपा नेता की हत्या का सनसनीखेज मामला

जबलपुर मे सामने आया भाजपा नेता की हत्या का सनसनीखेज मामला

83
0
Listen to this article

भोपाल(ईएमएस)। मध्यप्रदेश में नेताओं-कार्यकर्ताओं की हत्याओं की घटनाओ पर अंकुश नही लग पा रहा है। ताजा मामला जबलपुर मे सामने आया है, जहां बरगी में बीजेपी नेता की लाश रेत में दबी मिली है। नेता का नाम ऋषभ जैन बताया गया है। शव के पास रेत के ऊपर ‘द एंड’ लिखा हुआ था। बताया गया है की ऋषभ के सिर में सामने और पीछे की तरफ से गहरे चोट के निशान मिले हैं। घटना के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार, गुरूवार की शाम से ऋषभ लापता था, सुबह तक उसका इंतजार करने के बाद परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की, उसके दोस्तों से पूछताछ के बाद भी जब कोई सुराग नहीं मिला तो परिजनों ने पुलिस थाने में उसकी गुमशुदगी की रिर्पाट द्रज् कराई। इसके बाद शनिवार सुबह उसका शव भेड़ाघाट के पंचवटी में रेत में दबा हुआ मिला। घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने शव को रेत से बाहर निकाला।

भेडाघाट के बरगी मे रेत के नीचे दबी मिली लाश, रेत के उपर लिखा था ‘दी एन्ड’

बताया जा रहा है कि बरगी विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत भेड़ाघाट के पंचवटी ऋषभ जैन उर्फ सुलभ का शव में रेत में दबा हुआ था, और रेत के ऊपर ‘दी एन्ड’ लिखा हुआ था। पुलिस ने मामला संदिग्ध मानते हुए शव को पीएम के लिए भेज दिया। जानकारी के अनुसार मृतक ऋषभ जैन भेड़ाघाट में भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) का नगर महामंत्री था। वो लंबे समय से अवैध शराब और रेत उत्खनन के खिलाफ अभियान चला रहा था। आशंका जताई जा रही है कि इन अवैध कारोबार से जुड़े माफियाओं के लिए परेशानी बन रहे ऋषभ को मौत के घाट उतारा होगा। रेत में जहां ऋषभ का शव दबा हुआ था वहां ‘द एंड’ लिखा गया था। यह भी बताया गया है की इसके साथ ही वह मुर्ती का कारोबार भी करता था। घटना की सूचना मिलने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं में आक्रोश फैल गया। अज्ञात आरोपियो ने ऋषभ जैन की हत्या कर उसका शव स्वर्गद्वारी के पास रेत में गड़ा दिया था। युवक की तलाश करते हुए जब उसके परिजन स्वर्गद्वारी के जंगल पहुंचे, जहां उसकी बाइक, चप्पल मिली और कुछ ही दूर पर खून के धब्बे मिले। बाद मे पहुंची पुलिस टीम के सामने खून के धब्बे को देखते हुए आगे चलने पर वहां से 200 मीटर की दूरी पर नीचे स्वर्गद्वारी में रेत का टीला सामने आया। टीला देखने पर संदेह हुआ और उसकी खुदाई कराई गई, जिसके अंदर से ऋषभ का शव मिला। मृतक के नाक, माथे और सिर में चोट के निशान हैं। शुरुआती जांच मे ऋषभ पर ठोस चीज से हमला किये जाने की आशंका जताई गई है। घटना की गंभीरता को लेकर आला अधिकारियो ने तत्काल ही अज्ञात आरोपियो की तलाश के लिए विशेष टीम गठित की है। मृतक ऋषभ के भाई राजा ने पुलिस को बताया कि वह और उसका भाई बचपन से ही अपने मामा राजकुमार जैन के पास रहते है। दोनों पंचवटी घाट के पास मूर्तियों की दुकान जैन मार्बल का संभालते हैं। गुरुवार को दुकान के एक कारीगर के घर लगुन में गया था। ऋषभ रात साढ नो बजे घर से निकला था। लगुन के कार्यक्रम से वापस साढे दस बजे घर के लिए रवाना हुआ, लेकिन वह घर नहीं आया। देर रात तक जब ऋषभ घर नहीं आया, तो उसने और उसके मामा अन्य परिजन ने तलाश शुरू की। पुलिस मृतक की पीएम रिर्पोट के आधार पर आगे की कार्रवाई करेगी। वहीं फिलहाल पुलिस यह जानने मे जुटी है की मृतक कार्यक्रम से निकलने के बाद किससे मिला था, ओर अतिंम समय उसके साथ कोन मोजूद था। इसके साथ ही पुलिस उसके मोबाईल की कॉल डिटेल खंगालने के साथ ही यह जानने मे भी जुटी है की उसका बीते दिनो किसी से कोई विवाद तो नही हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here