Home देश-दुनिया सिर्फ 6 साल में सरकारी खातों से 557 करोड़ रुपए निकाल, कर...

सिर्फ 6 साल में सरकारी खातों से 557 करोड़ रुपए निकाल, कर लिए थे बंदरबांट -सृजन घोटाले में तत्कालीन डीएम रमैया समेत 60 के खिलाफ चार्जशीट

72
0
Listen to this article

पटना(एजेंसी)। बिहार के चर्चित सृजन घोटाले में सीबीआई ने तत्कालीन आईएएस के पी रमैया समेत 60 आरोपियों के खिलाफ तीन मामलों में चार्जशीट दाखिल कर दी हैं। इन सभी पर पटना की स्पेशल कोर्ट में एंटी करप्शन एक्ट के तहत अलग-अलग धाराओं में मामला दर्ज कराया गया है। घोटाले के खुलासे के मुताबिक अगस्त 2017 में भागलपुर के तत्कालीन डीएम आदेश तितरमारे का साइन किया हुआ चेक बैंक ने वापस कर दिया। इस बात पर जिलाधिकारी ने एक जांच कमेटी बैठा दी थी। कमेटी की रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि इंडियन बैंक और बैंक ऑफ़ बड़ौदा के सरकारी खातों में पैसे ही नहीं हैं। पूरी जानकारी जब सीएम नीतीश कुमार को मिली तो उन्होंने पटना में चल रहे एक कार्यक्रम के दौरान ही सृजन घोटाले की जानकारी लोगों को दी और अपने चुनिंदा अफसरों को आगे की जांच के लिए भागलपुर रवाना कर दिया। इसके बाद साल 2017 में ही सीबीआई को सृजन घोटाले की जांच का जिम्मा दे दिया गया। घोटालेबाजों ने 2008 से 2014 के बीच 557 करोड़ रुपये सरकारी खातों से निकालकर एक एनजीओ सृजन, महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड के खातों में डाल दिए थे। इसी संस्था के अकाउंट से सरकारी पैसों की बंदरबांट कर ली गई।
2008 से 2014 तक भागलपुर से शुरू हुए अरबों के इस घोटाले के पहले मामले में 28 आरोपी हैं, जिनमें भागलपुर के तत्काली डीएम केपी रमैया, उप समाहर्ता विजय कुमार, नाजिर अमरेंद्र यादव, सृजन संस्था की प्रबंधक सचिव सरिता झा, अध्यक्ष शुभ लक्ष्मी प्रसाद, बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य प्रबंधक शंकर प्रसाद दास, संयुक्त प्रबंधक वरुण कुमार, शाखा प्रबंधक गोलक बिहारी पांडा, शाखा प्रबंधक आनंद चंद्र गदाई के अलावा सृजन की पूर्व सचिव स्वर्गीय मनोरमा देवी के नाम शामिल हैं। सीबीआई ने इसी केस से जुड़े दूसरे मामले में 13 लोगों सृजन संस्था की प्रबंधक सरिता झा, अध्यक्ष शुभ लक्ष्मी प्रसाद, इंडियन बैंक के शाखा प्रबंधक सुरजीत राहा, बैंक ऑफ बड़ौदा के शाखा प्रबंधक आनंद चंद्र गदाई के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है। इस चार्जशीट में भी सृजन की पूर्व सचिव मनोरमा देवी का नाम शामिल है। सीबीआई ने तीसरे मामले में सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की है। इस आरोप पत्र में 19 लोगों के नाम हैं, इन आरोपियों में इंडियन बैंक के मुख्य प्रबंधक देव शंकर मिश्रा, बैंक ऑफ बड़ौदा के शाखा प्रबंधक शंकर प्रसाद दास, सृजन की सचिव सरिता झा और रजनी प्रिया तथा अध्यक्ष शुभ लक्ष्मी देवी शामिल हैं। इसी मामले में 7 आरोपियों के खिलाफ पहले ही चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here