Home उत्तर प्रदेश भुखमरी की कगार पर पहुंच गया 906 लोगों का परिवार

भुखमरी की कगार पर पहुंच गया 906 लोगों का परिवार

49
0
Listen to this article
सीतापुर(एजेसी)। 906 लोगों के परिवारों के सामने रोजी संकट का छा गया है। पिछले करीब पांच सालो से यह अभ्यर्थी दौड़ रह है लेकिन इनको इंसाफ नही मिल पा रहा हैं। मुख्यमंत्री को दिये गये प्रार्थना पत्र में पीड़ितो ने कहा है कि अनारक्षित-2515, अन्य पिछड़ा वर्ग-2030,अनुसूचित जाति-1882,अनुसूचित जनजाति-201, कुल पद- 6668 थे। जिसका अन्तिम परिणाम दिनांक 21 मई 2015 को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग प्रयागराज द्वारा जारी किया गया। जिसमें सफल अभ्यर्थी कैडर आरक्षण के अनुसार किया गया है। नारक्षित-2488,अन्य पिछड़ा वर्ग-2029,अनुसूचित जाति-1881़176,अनुसूचित जनजाति उम्मीदवारों की अनुपलब्धता के कारण 2057, अनुसूचित जनजाति-25,जिसमें क्षैतिज आरक्षण में सफल हुए अभ्यर्थी हैं,महिला-156, विकलांग-225, स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी-45 , कुल 6599 सफल अभ्यर्थी हैं । कृषि विभाग लखनऊ उत्तर प्रदेश द्वारा जिनको नियुक्ति दी गयी। इसी प्रकार अनारक्षित-2488,अन्य पिछड़ा वर्ग-1789,अनुसूचित जाति- 1391,अनुसूचित जनजाति-25 हैं, कुल 5693 अभ्यर्थी हैं। जिन सफल अभ्यर्थियों को नियुक्ति से वंचित रखा गया हैं अन्यपिछड़ा वर्ग- 240, अनुसूचित जाति- 666 इसमे विकलांग भी सम्मिलित हैं, कुल 906 अभ्यर्थी नियुक्ति से वंचित हैं। पीड़ितो ने कहा कि उपर्युक्त के परिक्षेप में संज्ञान लेते हुए 906 सफल अभ्यर्थियों को नियुक्ति दिलवाने की कृपा करें । जिससे कृषि विभाग का कार्य बाधित ना हो और योग्य अभ्यर्थी सरकारी सेवा में आकर प्रदेश के कृषि विकास को गति दे । जिससे आपका सबका साथ सबका विकास का उद्देश्य सम्पन्न हो ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here