Home राज्य गुजरात विकास की लंबी छलांग लगाने वाला वर्ष होगा 2021: मुख्यमंत्री

विकास की लंबी छलांग लगाने वाला वर्ष होगा 2021: मुख्यमंत्री

0
विकास की लंबी छलांग लगाने वाला वर्ष होगा 2021: मुख्यमंत्री

अहमदाबाद(एजेंसी)| मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने साल 2020 को कोरोना के खिलाफ युद्ध के समान बताते हुए कहा कि कोरोना काल में भी राज्य का विकास अविरत जारी रहा है। पिछले 10 महीने में करीब 20 हजार करोड़ रुपए के विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण करने का जिक्र करते हुए उन्होंने संकल्प जताया कि नववर्ष भी विकास की लंबी छलांग लगाने वाला होगा। शुक्रवार को नववर्ष के नूतन प्रभात पर राजकोट वासियों की सुख-सुविधा के लिए 96.16 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण और 73.14 करोड़ रुपए की लागत से साकार होने वाले राजकोट महानगरपालिका और राजकोट शहर विकास प्राधिकरण (रूडा) के विकास कार्यों का शिलान्यास करते हुए उन्होंने यह बात कही।

रूपाणी ने कहा कि बीते साल कोरोना संक्रमण की रोकथाम और उसका उत्कृष्ट उपचार मुहैया कराने में पूरे प्रशासनिक अमले ने एकजुट होकर कार्य किया है। कोरोना जैसी आपदा को अवसर में तब्दील करने के लिए हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर और हेल्थ एन्वायर्नमेंट सहित स्वास्थ्य क्षेत्र के अनेक नए आयामों को आकार दिया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐसी अनेक परियोजनाओं की भेंट गुजरात को दी है जिसने विश्व स्तर पर लोगों का ध्यान आकर्षित किया है। कच्छ में 30 हजार मेगावाट क्षमता का दुनिया का सबसे बड़ा हाइब्रिड रिन्यूएबल एनर्जी पार्क, भारत का सबसे बड़ा गिरनार रोप-वे, किसान सूर्योदय योजना, समुद्री मार्ग के जरिए आवागमन के लिए रो-पैक्स फैरी सर्विस, भारत की पहले सी-प्लेन सर्विस और एम्स जैसे विभिन्न प्रोजेक्ट गुजरात की धरा पर साकार हुए हैं।

सरकार ने कृषि, सिंचाई, शिक्षा और शहरी विकास सहित तमाम क्षेत्रों में कई योजनाएं बनाकर ‘सर्वे भवन्तु सुखिनः’ के मंत्र को चरितार्थ किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहरों के विकास की रफ्तार पर ब्रेक ना लगे उसके लिए गुजरात में पिछले तीन साल में 300 टीपी स्कीम और 40 डीपी स्कीम बनाकर इतिहास रचा है। गुजरात के शहर दुनिया के शहरों की बराबरी कर सकें, उसके लिए सरकार निरंतर कार्यरत है। पानी, पर्यावरण और प्रकाश की सुविधा के साथ शहरों के योजनाबद्ध विकास को सुनिश्चित करने का निष्ठावान कार्य गुजरात में हो रहा है।

राज्य के विकास में सुदृढ़ कानून व्यवस्था को अहम पहलू करार देते हुए उन्होंने कहा कि गोहत्या विरोधी, शराबबंदी और लैंड ग्रैबिंग जैसे सख्त कानून बनाकर उसके कार्यान्वयन के साथ गुजरात में कानून व्यवस्था की परिस्थिति को अधिक सुदृढ़ बनाकर राज्य को शांति और सुरक्षा के साथ सर्वांगीण विकास की नूतन दिशा दिखाई है। डिजिटल गुजरात के संकल्प के साथ 31 मार्च तक गुजरात के गांवों को डिजिटल कनेक्टिविटी से जोड़ने का सुदृढ़ आयोजन किया है, जिसके चलते ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को भी ऑनलाइन सरकारी सेवा व सुविधाएं घर बैठे प्राप्त होगी।

मुख्यमंत्री ने राजकोट के अविरत विकास कार्यों का ब्यौरा देते हुए कहा कि राजकोट जिले में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, बस पोर्ट, छह और चार मार्गीय सड़कें, एम्स, मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल और नया जनाना हॉस्पिटल सहित अनेक प्रोजेक्ट शुरू किए हैं जो आगामी दिनों में राजकोट को व्यापक विकास के शिखर पर ले जाएंगे। नर्मदा और शहरी गृह निर्माण विभाग राज्य मंत्री योगेशभाई पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी के नेतृत्व में राज्य सरकार विकास के नए आयाम स्थापित कर रही है। एम्स, अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा और लाइट हाउस प्रोजेक्ट सहित अनेक प्रक्लपों की भेंट मुख्यमंत्री ने राजकोट को दी है। उन्होंने विश्वास जताया कि मुख्यमंत्री की अगुवाई में राजकोट सहित पूरा गुजरात विकास की नई ऊंचाइयों को छुएगा।

कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और राज्य मंत्री योगेशभाई पटेल को हाउसिंग विभाग के सचिव लोचन शहेरा, कलक्टर रेम्या मोहन तथा मनपा आयुक्त उदित अग्रवाल ने स्मृति चिह्न भेंट किया। इस मौके पर स्मार्ट सिटी राजकोट के विकास कार्यों से संबंधित एक वृत्तचित्र भी दिखाया गया। इसके अलावा, भवन निर्माण श्रमिकों के लिए कार्यस्थल पर आने-जाने के लिए परिवहन खर्च में 80 फीसदी की राहत देने वाली खास योजना के लाभार्थी को मुख्यमंत्री ने प्रतीक के तौर पर कंसेशन पास देकर योजना का शुभारंभ किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here