Home गुजरात हीरा कारोबारी सावजी ने तालाब बनाकर बनाया अपने गांव को खुशहाल

हीरा कारोबारी सावजी ने तालाब बनाकर बनाया अपने गांव को खुशहाल

50
0
Listen to this article

सूरत (ईएमएस)। अपने कर्मचारियों को कभी कार तो कभी फ्लैट देने वाले हीरा कारोबारी सावजी ढोलकिया इस बार अपने गांववालों को खास तोहफा देने जा रहे हैं। दरअसल सावजी ढोलकिया का अपने गांव से काफी लगाव है। कभी सूखे की मार झेलने वाले गांव दुधाला की ढोलकिया ने पूरी काया ही पलट दी। ढोलकिया के प्रयासों से यह गांव काफी खुशहाल है। दरअसल ढोलकिया ने अपने पैतृक गांव में 70 तालाब बनाने का लक्ष्य रखा है। ढोलकिया ने गांव में 45 तालाब बना दिए हैं और अब बाकि बचे 25 तालाब बनवा रहे हैं जिसका काम इसी साल पूरा हो जाएगा। सावजी ने बताया कि गांव में तालाब बनाने के पीछे की प्रेरणा उनकी मां है।उन्होंने कहा कि आमतौर पर महिलाओं को हीरा पंसद होता है लेकिन मेरी मां चमकदार पत्थर नहीं बल्कि बारिश पंसद थी। उनका कहना था कि बस थोड़ी सी बारिश हो जाए ताकि गांव वाले पानी को न तरसे। सावजी ने कहा कि वे बचपन से यही देखते हुए बड़े हुए कि कैसे उनकी मां बारिश की दुआ करती थी और फिर बरसात होने पर भगवान का शुक्रिया भी करती थी। 6000 करोड़ की संपत्ति के मालिक हीरा कारोबारी सावजी बताते हैं कि कभी सूखे का दंश उन्हें भी झेलना पड़ा और वे अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ कर आजीविका के लिए अपना गांव छोड़कर सूरत आ गए। उन्होंने कहा कि तभी अपने मन में ठान लिया था कि अपने गांव के लिए अवश्य जरूर कुछ करूंगा। उन्होंने कहा कि अब समय है कि अपने गांव के लिए कुछ करूं। उन्होने कहा कि 1.5 करोड़ रुपए में शुरुआत में 5 तालाब बनवाए और इसका अशर भी दिखा। गांव के लोगों की दिक्कतें दूर होने लगीं, हालांकि यह अभी शुरुआत है। वहीं गांव वाले भी सावजी के इस कदम की सराहना कर रहे हैं। गांवावासियों का कहना है कि तालाब बनने के बाद अब पानी के लिए संघर्ष खत्म हो गया है और गांव का स्वरूप भी बदल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here