Home उत्तर प्रदेश अपने ही बनाए जाल में फंसते जा रहे हैं नामित सभासद -खुद...

अपने ही बनाए जाल में फंसते जा रहे हैं नामित सभासद -खुद के काले इतिहास को जिंदा रखकर ईमानदार अधिकारी पर कीचड़ उछालना पड़ा गया महंगा -एक न्यूज की खबर से पूरे प्रदेश में हो रही नामित

57
0
Listen to this article

बाराबंकी। नगर पंचायत जैदपुर में नामित सभासद वर्तमान समय में अपने ही बुने मकड़जाल में फंसते जा रहे हैं। सबसे ज्यादा किरकरी तो उनकी हो रही है जिन्होंने काले इतिहास को जानकर भी अपने फायदे के लिए शासन स्तर पर उनकी सूची भेजी थी। सत्ता की मलाई काटने के चक्कर में नामित सभासदों की रातों की नींद गायब। अब पहुंच रहे हैं बड़े-बड़े राजनैतिक आकाओं के यहाँ लेकिन अब इतिहास खुल जाने से कोई भी मदद करने को तैयार नहीं, जल्द ही जा सकती है मिली हुई गद्दी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कस्बा नगर पंचायत जैदपुर में नामित सभासद जितेन्द्र कुमार उर्फ डीएम जो काफी अपराधिक पृष्ठभूमि वाले हैं किन्तु अपने इतिहास को छिपाकर राजनैतिक आकाओं की चरण वन्दना करके तथा अनुचित लाभ पहुंचाकर किसी तरीके से अपने आपको नामित सभासद बनवा लिया था किन्तु जब यह जानकारी जनपद में फैली तो लोग तरह-तरह के सवाल करने लगे कि क्या भाजपा सरकार में अपराधियों को भी जगह मिल जाती है वह भी पद के साथ। एक भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता जो हर कार्यक्रम में पार्टी का झण्डा ऊँचा करते हैं उनको पार्टी आलाकमान द्वारा आज तक कोई पद नहीं मुहैय्या कराया गया तो उन्होंने कहा कि अगर हमारा भी इतिहास काला होता और हामारे पास पैसा होता तो हमको भी पद मिल जाता, क्या करें हम तो गांव के गरीब लोग हैं, लेकिन पार्टी के सभी कार्यक्रमों में आगे रहते है। और भारतीय जनता पार्टी के लिए जिंदगी लगा दी। हमें अब पद की लालसा नहीं रह गयी है।
विश्वस्त्र सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त नामित सभासद पद पाते ही लोगों में धौंस जमाना शुरू कर दिया था और नई बुलेट खरीद कर जैदपुर में रौब गालिब करता हुआ नगर पंचायत पहुंचा तथा इनके परिवार के लोग भी गांव ज्वार में कहते थे कि हमरे भी भइया नामित सभासद है और ऊंचे पदों पर हैं , अगर हम लोगों ने सात खून भी कर दिया तो हमरे भइया हमका बचा लेहै। इस तरह से कई पुराने कार्यकर्ता उक्त नामित सभासदों के डर के मारे जल्द ही पार्टी बदलने के मूड में हैं। कोई कहता है कि अब तो भाजपा पार्टी में वही रूक सकता है जिसका काला इतिहास हो या उसके पास अकूत सम्पत्ति हो। नगर पंचायत जैदपुर में होने वाले निकाय चुनाव में आपको देखने को मिल जायेगा कि बहुल से कर्मठ कार्यकर्ता किसी दूसरी पार्टी की टोपी पहनकर इन काले इतिहास वालों के विरूद्ध खड़े दिखाई देंगे, अभी कुछ ईमानदार कार्यकर्ता शांत हैं वह देख रहे हैं कि पार्टी स्तर से कुछ कार्यवाही हो जाये अगर जल्द कार्यवाही नहीं हुई तो हम लोग अपनी ही पार्टी के विरूद्ध चुनाव लड़कर जहंा जहंा से भी उक्त पार्टी के प्रत्याशी होंगे, हम लोग जी-जान लगाकर उनको हराना ही हमारा उद्देश्य होगा, ताकि भ्रष्ट लोग किसी भी पद पर न पहुंच सके।
वर्तमान समय में हो रहे घमासान को अगर पार्टी के जिम्मेदार लोगों ने जल्द ही संज्ञान नहीं लिया तो निकट भविष्य में समस्या अति विस्फोटक हो सकती है। कई नेता जो ईमानदारी से पार्टी को मजबूत कर रहे थे वह मजबूर होकर पार्टी को हिला कर रख देंगे। (इएमएस) लगातार भष्टाचारियों व अपराधियों के विरूद्ध खबर प्रकाशित करके जनता के बीच में उजागर करता चला आ रहा है, जब-जब खबर प्रकाशित होती है तो कई चिन्टू तो मुँह छिपाकर दुबक जाते हैं और हाँ यहा तक जिम्मेदार लोगों के साथ-साथ पार्टी के बडे-बड़े नेता भी कुछ बोलने से कतराते हैं। सब शांत रहकर सिर्फ तमाशा ही देख रहे हैं। बाराबंकी। नये-नये नेता को बलि का बकरा कैसे बनाया जाता है, यह देखना है तो आप नगर पंचायत जैदपुर के नामित सभासद कमल राजपूत को देखिए। अभी हाल में ही नामित सभासद बने और पहली ही सीढ़ी पर औधे मुँह गिर पड़े आगे इनका क्या होगा यह तो वक्त ही बतायेगा। एक कहावत है कि राजनीति में अपने बाप पर भी भरोसा नहीं किया जाता है किन्तु नया-नया धोबी कथरी में साबुन लगावत है के तहत इनको पेड़ पर चढ़ाकर नीचे से डाल काट दी गयी।
जानकारी के अनुसार जनपद बाराबंकी के कस्बा जैदपुर के नगर पंचायत में नामित सभासद कमल राजपूत भारतीय जनता पार्टी के टिकट से चुनाव लड़ें और 500 में भी लाले पड़ गए थे और आब बटेर हाथ लग गई तो सोचा चलो दोनों हाथों से बटोर लें इसी का फायदा घाघ नेताओं ने उठाया और उसके हाथों की कठपुतली बनकर रह गये हैं। कई नेता इनके कंधे पर बंदूक रखकर भविष्य में होने वाले नगर पंचायत के चुनाव में अपनी पृष्ठभूमि तैयार करवाकर फसल खुद बोयेगें, और काटेंगे। इनका क्या फायदा यह तो यह ही जाने।इस संबध में भाजपा से नामित हुए सभासद पिंकू सोनी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि भैया हमका जो भारतीय जनता पार्टी ने जिम्मेदारी दिया है इससे हम जनता का काम करब हम से जो भी हो सकता है हम जनता के साथ खड़े हैं कोई क्या कर रहा है हमका मतलब नहीं है उन्होंने कमल राजपूत जितेन कुमार उर्फ डीएम के बारे में कुछ भी कहने से मना किया और कहा कि सबकी अपनी-अपनी समझ है जो जैसा करेगा वैसा भरेगा
वर्तमान समय में देश कोरोना से लड़ रहा है, वहीं जैदपुर नगर पंचायत में नामित सभासद एक ईमानदार अधिकारी से लड़ रहे हैं। कोरोना से जल्द देश जितेगा और भ्रष्टाचारियों से एक ईमानदार अधिकारी की भी जीत निश्चित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here