Home धर्म-आध्यात्म रायपुर में धूमधाम से निकली रथयात्रा

रायपुर में धूमधाम से निकली रथयात्रा

204
0

रायपुर,(ईएमएस)। राजधानी में भी रथयात्रा धूमधाम से मनाया जा रहा है। आज से शुरू हुआ रथयात्रा का ये कार्यक्रम पूरे 9 दिन चलेगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी आज रथयात्रा के दौरान मौजूद रहे, इस दौरान उन्होंने पारंपरिक रूप से भगवान को रथ तक ले जाने के दौरान रास्ते में छेरापहरा की रस्म अदा की। इस रस्म के तहत भगवान को रथ तक ले जाने के रास्ते में सोने के झाडू से सांकेतिक रूप से झाडू लगायी जाती है। रथयात्रा के दौरान राजनीति की एक दुर्लभ तस्वीर भी नजर आयी।
पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह भी पूरे कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे और साथ ही पूजा-अर्चना की। इस दौरान दोनों ने एक साथ आरती भी लगायी। महीनों बाद ऐसा नजारा दिखा, जब भूपेश बघेल और रमन सिंह एक साथ एक ही कार्यक्रम में एक ही वक्त पर ना सिर्फ मौजूद थे, बल्कि साथ ही पूरी रस्म भी अदा की। रथयात्रा समारोह में विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह पत्नी वीणा सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक,विधायक कुलदीप सिंह जुनेजा और मेयर प्रमोद दुबे, मंत्री जय सिंह अग्रवाल, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल भी भगवान जगन्नाथ मंदिर पहुंचे।
आज निकलेगी भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा राजधानी के जगन्नाथ मंदिरों में भगवान का अभिषेक, पूजन कर भक्तिमय माहौल में अनेक जगहों पर रथ को निकाला जायेगा। मंदिरों में भगवान जगन्नाथ स्वामी के लिए नंदी घोष, भाई बलभद्र के लिए तालध्वज और बहन सुभद्रा के लिए देवदलन रथ आकर्षक ढंग से तैयार किया गया है। जिसमें विराजमान होकर महाप्रभू आज भक्तों को दर्शन देंगे। फिर नौ दिनों तक भगवान मौसी गुंडिचा के घर में विश्राम करेंगे। 12 जुलाई को बाहुडा वापसी रथ यात्रा निकलेगी।
मरवाही, पेंड्रा गौरेला के गांधीगंज प्राथमिक शाला में मध्यान भोजन के दौरान बच्चों की थाली में मरी हुई छिपकली के अंश मिले, छात्रों ने इसकी शिकायत शिक्षक से की गई पर तब तक शिक्षकों के साथ छात्रों ने भोजन कर लिया था आनन-फानन में प्रशासन को इसकी सूचना दी गई बाद में सभी बच्चों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गौरेला भर्ती कराया गया है जहां सभी बच्चों को फिलहाल चिकित्सकीय निगरानी में रखा गया है… मामला गौरेला विकासखंड के गांधीगंज प्राथमिक शाला में पढ़ने वाले बच्चों की थाली में मध्यान भोजन के दौरान मरी हुई छिपकली के अंश मिले जिसकी शिकायत भोजन के दौरान बच्चों ने तुरंत शिक्षकों से की मामले की गंभीरता को देखते हुए शिक्षकों ने तुरंत इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को दी प्रशासन ने तुरंत हरकत में आकर अपने वाहन से सभी बच्चों को तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करा दिया जहां सभी बच्चों का ईलाज चल रहा है, हालांकि बच्चों के शरीर में अभी तक छिपकली के जहर या किसी भी प्रकार का कोई रिएक्शन देखने को नहीं मिला एहतियातन सभी बच्चों को ऑब्जरवेशन में भी रखा गया है डॉक्टर के अनुसार कम से कम 3 घंटे तक इन्हें ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा….. उसके बाद स्थिति सामान्य होने पर सभी को उनके घर भेज दिया जाएगा..शिक्षिका के अनुसार जैसे ही बच्चों को यूँकि थाली में छिपकली के अंश मिले उन्होंने भोजन बाहर फेंक दिया.. पर फिर भी कुछ बच्चों ने 2 -4 नेवाले खा लिए थे इसलिए सभी को अस्पताल ले आये है.. भोजन बनाने वाले समूह के रसोइए का कहना हैं कि हमने भोजन ढक कर बनाया था पर छिपकली कैसे गिर गयी जानकारी नही है.. गनीमत रही है बच्चों ने समय रहते थाली में छिपकली के अंश देख लिए और पूरा भोजन नही किया जिससे अप्रिय स्थिति होने से बच गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here